इंटरनेशनल

US का हाफिज सईद को बड़ा झटका, राजनीतिक पार्टी MMLको आतंकी संगठन किया घोषित

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
349
| अप्रैल 3 , 2018 , 14:20 IST

पाकिस्तान में होने वाले आम चुनावों से पहले अमेंरिका ने मुंबई हमले के सरताज मास्टरमाइंड हाफिस सईद को बड़ा झटका दे दिया है। अमेरिका ने सईद की राजनीतिक पार्टी मिल्ली मुस्लिम लीग (MML) को आतंकी संगठन घोषित कर दिया है। इतना ही नहीं अमेरिका ने MML के 7 सदस्यों को भी आतंकी घोषित किया है।

अमेरिका ने सोमवार को तहरीक-ए-आजादी-ए-कश्मीर TAJK को भी आतंकी संगठनों की सूची में डाला है। TAJK को लश्कर-ए-तैयबा का फ्रंट माना जाता है, जो अमेरिका के मुताबिक पाकिस्तान में बिना रोक-टोक संचालित होता है।

इससे एक दिन पहले ही पाकिस्तान चुनाव आयोग ने MML को राजनीतिक पार्टी के तौर पर पंजीकृत करने के लिए गृह मंत्रालय द्वारा दिया क्लियरंस सर्टिफिकेट पेश करने को कहा था।

अमेरिका ने यह कदम ऐसे वक्त में उठाया है, जब पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने एमएमएल को एक राजनैतिक दल के रूप में पंजीकरण के लिए आंतरिक मंत्रालय द्वारा मिली मंजूरी प्रमाण पत्र पेश करने के लिए कहा था। बता दें कि अभी तक चुनाव आयोग ने राजनीतिक दल के रूप में उसे मंजूरी नहीं दी है।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय में आतंकवाद-निरोध समन्वयक नाथन ए. सेल्स ने कहा, ‘एमएमएल और टीएजेके दोनों ही लश्कर-ए-तैयबा के मोर्चा हैं और इनका गठन संगठन पर लगे प्रतिबंधों से बचने के लिए किया गया है। आज के संशोधनों का लक्ष्य प्रतिबंधों से बचने के लश्कर-ए-तैयबा के रास्तों को बंद करना और उसके झूठे चरित्र को लोगों के सामने लाना है।’

मुंबई हमले का मास्टरमाइंड है हाफिज सईद-:

बता दें कि लश्कर-ए-तैयबा का गठन 1980 में हुआ। 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमले में हाफिज सईद के इसी संगठन का हाथ है, जिसमें 166 लोगों की जान चली गई थी। अमेरिका द्वारा प्रतिबंध लगाने के बावजूद एलइटी पाकिस्तान में खुलेआम पब्लिक रैली और चंदा इकट्ठा करता आया है।

इसे भी पढ़ें-: पाक ने शुरू की हाफिज सईद पर कार्रवाई, मदरसों और स्वास्थ्य केंद्रों को लिया कब्जे में

यहां तक की पाकिस्तान सरकार की नाक के नीचे आतंकी हमले के लिए ट्रेनिंग प्रोग्राम भी चलाता आया है। 26 दिसंबर, 2001 में अमेरिका ने लश्कर को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया। वहीं, लश्कर के सरगना हाफिज सईद को भी वैश्विक आतंकी घोषित किया।


कमेंट करें