इंटरनेशनल

US ने चीन और रूस की कंपनियों पर लगाया प्रतिबंध, उत्तर कोरिया की मदद करने का आरोप

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
153
| जनवरी 1 , 1970 , 05:30 IST | वॉशिंगटन

अमेरिका ने रूस और चीन की 10 कंपनियों और 6 व्यक्तियों पर प्रतिबंध लगाया है। अमेरिका ने यह प्रतिबंध उत्तर कोरिया के मिसाइल और परमाणु हथियारों के कार्यक्रम को व्यापार के माध्यम से आगे बढ़ाने में मदद करने के आरोप में लगाया है। अमेरिका ट्रैजरी विभाग ने एक बयान जारी कर कहा कि हमने 10 कंपनियों और 6 व्यक्तियों के खिलाफ आर्थिक संबंधों को बाधित करने के लिए प्रतिबंध लगाया गया है।

वहीं, इस प्रतिबंध के बाद चीन ने अमेरिका से अपील की है कि वह उत्तर कोरिया के मुद्दे पर पेइचिंग की कंपनियों पर लगाए गए बैन को तत्काल प्रभाव से हटा दिया जाए।

Trump

अमेरिका ने अपने बयान में कहा है कि उत्तर कोरिया को परमाणु हथियारों का निर्माण करने और क्षेत्र को अस्थिर करने में मदद करने वाले चीन, रूस और दूसरी जगहों के लोगों और कंपनियों पर से प्रतिबंध नहीं हटाया जा सकता।

Jiping-putin_3301426b

आपको बता दें कि, इससे पहले जून में ट्रंप सरकार ने एक चीनी बैंक, एक चीनी कंपनी और दो चीनी नागरिकों पर उत्तरी कोरिया के हथियार कार्यक्रम के वित्तपोषण के लिए प्रतिबंध लगाया था। उत्तर कोरिया पर लगे प्रतिबंधों की वजह से इस बैंक पर अमेरिकी अर्थव्यवस्था के तहत लेन-देन पर रोक लगी हुई है। वहीं, उत्तर कोरिया पर उसके परमाणु हथियार और मिसाइल विकास कार्यक्रमों के कारण संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने भी आर्थिक प्रतिबंध लगा रखे हैं।

 

 


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर हैं

कमेंट करें