इंटरनेशनल

स्टाफ की गलती के चलते अमेरिकी राष्ट्रपति हुए परेशान, नहीं मिला ठहरने के लिए होटल!

अनुराग गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
128
| जुलाई 8 , 2017 , 13:58 IST | हैम्बर्ग

G-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने जर्मनी पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ा। बता दें कि जर्मनी के हैम्बर्ग में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप को ठहरने के लिए होटल नहीं मिल रहा है। खबरों की माने तो अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए बड़ा होटल बुक करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

Gettyimages-631336868_wide-e2a76e6e0692320b51bb09f27b9742a6fd14ff94

बताया जा रहा है कि ट्रंप के साथ आए स्टाफ ने जी-20 सम्मेलन में नेताओं से मुलाकात से पहले होटल बुक करने में देरी कर दी, जिसकी वजह से होटल नहीं पा रहा। स्थानीय समाचार के मुताबिक फॉर सीजन्स में रूम खाली नहीं होने के चलते होटल प्रबंधन ने ट्रंप की मेजबानी करने से मना कर दिया।

जब ट्रंप को हैम्बर्ग के किसी बड़े होटल में ठहरने की जगह नहीं मिली और बाहर निकलना पड़ा, तो बेहद शर्मिंदगी महसूस हुई। सबसे बड़ी बात यह है कि दुनिया में कई देशों पर स्वयं ट्रंप के होटल हैं मगर जर्मनी में उनके एक भी होटल नहीं हैं।

वहीं बजफीड न्यूज की खबरों पर गौर करें तो ट्रंप हैम्बर्ग के सीनेट हाउस और उनका स्टाफ अमेरिकी वाणिज्यिक दूतावास में रुक रहा है। बताया जा रहा है कि यह पहली दफा नहीं है जब अमेरिकी स्टाफ ने होटल करने में देरी की हो। फिलहाल ट्रंप सीनेट हाउस में ठहरे हुए है।

Ct-impeach-donald-trump-20170515

सूत्रों से पता चला है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पार्क हयात में ठहरे हुए हैं। भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी अटलांटिक केम्पिंस्की होटल में ठहरे हुए हैं।


कमेंट करें

अभी अभी