नेशनल

मुजफ्फरनगर रेल हादसा: सुरेश प्रभु बोले जल्द बताओ कौन है जिम्मेदार?

| 0
398
| अगस्त 20 , 2017 , 14:20 IST

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के खतौली में कलिंग उत्‍कल एक्‍सप्रेस शनिवार शाम दुर्घटनाग्रस्‍त हो गई। इस हादसे में 30 लोगों की मौत हो गई, जबकि 150 से अधिक लोग जख्मी हैं। दरअसल, दुर्घटना इतनी भयावह थी कि पटरी से 13 डिब्बे निकल कर आस-पास के घरों को क्षतिग्रस्त कर दिया। हालांकि इस मामले में संज्ञान लेते हुए अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 304A के तहत केस दर्ज किया गया है।

वहीं इस दुर्घटना को लेकर रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने शाम तक जानकारी मांगी है कि इसका जिम्मेदार कौन है। सुरेश प्रभु ने ट्विटर के जरिए कहा कि, वह इस हादसे पर बारीकी से नजर बनाए हुए है। पटरियों की मरम्मत उनकी शीर्ष प्राथमिकता है। सात डिब्बों को हटाया जा चुका है। जख्मी लोगों के लिए सबसे बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

शनिवार शाम हुए इस हादसे में उतरे डिब्बे ट्रैक के पास बने मकानों और स्कूल इमारत में घुस गए। बताया जा रहा है हादसे के वक्त ट्रेन 105 किमी से अधिक की रफ्तार में पटरी पर दौड़ रही थी जिसकी वजह से पटरी टूट गई। दरअसल, पटरी पर काम चल रहा था और ट्रेन को 10-15 किमी की रफ्तार से वहां से गुजरना था मगर सिग्नल खराब होने की वजह से ड्राइवर को कॉशन की सूचना नहीं मिली और ये हादसा हो गया।

हादसे के तुरंत बाद राहत कार्य शुरू कर दिया गया। बता दें कि रेलवे के अधिकारी ने इस हादसे पर दुख जताते हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस की। बताया गया कि जख्मियों का इलाज मुजफ्फरनगर और मेरठ के अस्पतालों में किया जा रहा है। इस हादसे के बाद रेलवे की टीम, प्रशासनिक अधिकारी, एनडीआरएफ की टीम और स्थानीय लोगों ने मदद की। उन्होंने बताया कि रात 10 बजे तक रास्ता साफ हो जाएगा।

देखें वीडियो:


author

कमेंट करें