अभी-अभी

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस: हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष के बिगड़ैल बेटे को नहीं मिली जमानत

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
111
| अगस्त 29 , 2017 , 18:21 IST | चंडीगढ़

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस में मंगलवार को आरोपी विकास बराला की जमानत याचिका रद्द कर दी गई। जिला अदालत ने वर्णिका कुंडू छेड़छाड़ मामले में विकास बराला और उसके आरोपी दोस्त आशीष की जमानत याचिका ठुकरा दी।  

भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी की बेटी को अगवा करने के प्रयास के आरोप में हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला और उसके दोस्त को चंडीगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पूछताछ में विकास बराला ने यह कबूल भी किया था कि वह लड़की की कार का पीछा कर रहा था। आरोपियों की बेल पिटीशन पर कोर्ट ने पुलिस से बयान मांगा था। इस पर पुलिस की ओर से सरकारी वकील ने पंचकुला हिंसा का हवाला देते हुए कुछ वक्त भी देने को कहा था। 

Vvvvvvvvvvvvvv

क्या है पूरा मामला
4 अगस्त की रात करीब 11-12 बजे चंडीगढ़ में एक आईएएस अफसर की बेटी वर्णिका कुंडू अपनी कार से जा रही थी। लड़की का आरोप है कि कार सवार दो लड़कों ने उसका पीछा किया। उसकी कार के आगे अपनी कार अड़ाकर रोका। गेट से बाहर खींचने की कोशिश की। लड़की ने तुरंत पुलिस को फोन लगाया। मदद के लिए मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपियों को अरेस्ट कर लिया। बाद में उन्हें जमानत दे दी गई। हालांकि, बाद में उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। पुलिस के मुताबिक आरोपी नशे में थे।

Dc-Cover-91thia38ebhm7m9b4jm49r1fq1-20170809153810.Medi


महिला का पीछा करने के मामले में विकास और उसके दोस्त को पहले महिला की शिकायत पर शनिवार 5 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था। इस घटना पर देशभर में जबर्दस्त आक्रोश सामने आया था। दरअसल तब दोनों पर भादसं और मोटर वाहन अधिनियम के तहत जमानती धाराएं लगायी गयी थीं। इस घटना पर देशभर में जबर्दस्त आक्रोश सामने आने के बाद पुलिस ने 9 अगस्त को विकास बराला और उनके साथी को लंबी पूछताछ के बाद फिर गिरफ़्तार कर लिया था। 


कमेंट करें

अभी अभी