नेशनल

Rotomac के मालिक ने किया 800 करोड़ का घोटाला, CBI कर रही है पूछताछ

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
484
| फरवरी 19 , 2018 , 11:52 IST

रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी पर शिकंजा कसता दिखाई दे रहा है। सीबीआई ने कोठारी से पूछताछ शुरू कर दी है। बता दें कि पिछले कुछ दिनों से कोठारी के भारत से बाहर भाग जाने की खबरें थीं, लेकिन उन्होंने इसका खंडन किया था।

सीबीआई ने सोमवार को कोठारी के कानपुर स्थित घर पर छापा मारा और 800 करोड़ बैंक लोन मामले में उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया है। ये छापेमारी बैंक ऑफ बड़ौदा की शिकायत पर की गई है।

विक्रम कोठारी रोटोमैक ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन व एमडी हैं। उन्होंने इलाहाबाद बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई) से कुल 800 करोड़ रुपये के लोन ले रखे हैं।

इलाहाबाद बैंक और यूबीआई के सूत्रों का कहना है कि न तो कोठारी ने बैंक का कर्जा चुकाया है और न ही उन्होंने ब्याज का पैसा दिया है।

तमाम खबरों के बीच बयान जारी कर कोठारी ने कहा, ‘पहली बात यह कि इसे घोटाला न कहें। दूसरा, मैं देश छोड़कर नहीं जा रहा हूं और कानपुर में ही हूं।

बैंकों ने मेरी कंपनी को एनपीए घोषित किया है, न कि गबन करने वाली कंपनी, मामला अभी भी राष्ट्रीय कंपनी कानून ट्रिब्यूनल में विचाराधीन है। मैंने कर्ज लिए हैं और मैं जल्द ही इन्हें चुका दूंगा।’

उधर, इलाहाबाद बैंक के मैनेजर राजेश गुप्ता का कहना है कि अगर कोठारी की कंपनी ने पैसा नहीं चुकाया तो बैंक उनकी संपत्ति बेच कर कर्ज की रकम वसूल करेगा।

बैंकों के अंदर के लोगों की मानें तो कोठारी को कर्ज देने के लिए नियमों के साथ समझौता किया गया था। बैंकों के अधिकारियों और कुछ व्यावसायिक ग्राहकों ने नाम नहीं जाहिर करने की शर्त पर बताया कि वे कुछ दिनों से माल रोड वाले दफ्तर के चक्कर लगा रहे हैं लेकिन वह बंद मिलता है। इन लोगों का यह भी कहना है कि उन्होंने कोठारी से फोन पर बात करने की कोशिश की थी लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।

पिछले साल बैंक ऑफ बड़ौदा ने रोटोमैक ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड को विलफुल डिफॉल्टर घोषित किया था। कंपनी बैंक के इस आदेश के खिलाफ इलाहाबाद हाई कोर्ट गई।

हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डीबी भोसले और जस्टिस यशवंत वर्मा की खंडपीठ ने कंपनी की याचिका पर सुनवाई करते हुए बैंक को आदेश दिया कि कंपनी का नाम विलफुट डिफॉल्टर लिस्ट से बाहर किया जाए।


कमेंट करें