राजनीति

तमिलनाडु में एक वोट की कीमत 4000 रुपये, अबतक बांटे गए 89 करोड़!

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
129
| अप्रैल 9 , 2017 , 12:25 IST | चेन्नई

चेन्नई के आरके नगर उपचुनाव में नोट के दम पर वोट लेने के मामले में चुनाव आयोग सख्त हो सकता है। बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग आरके नगर विधानसभा चुनाव को रद्द कर सकता है। खबर के मुताबिक चीफ इलेक्शन कमीशन और राज्य प्राधिकरण के बीच मीटिंग के बाद इसपर सोमवार को फैसला आ सकता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वहां अब तक 89 करोड़ रुपए बंट चुके हैं। आपको बता दें कि यह सीट एआईएडीएमके की पूर्व महासचिव जयललिता की मौत के बाद खाली हुई है। आयकर विभाग की छापेमारी में मिले दस्तावेजों के आधार पर मीडिया में खबर चली कि वहां हर वोट की कीमत लगाने का प्रयास किया गया है। उपचुनाव में खर्च पैसे को देखते हुए लगता है कि एक वोट की कीमत चार हजार रुपए है।

इस मामले में सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्स (सीबीडीटी) में रिपोर्ट भेजी गई है। इसमें आरके नगर में वोटर्स को बांटे गए कैश के डाक्युमेंट, ड्रग सप्लायर से अधिकारियों को दी गई घूस और कुछ दूसरी चीजें भी हैं।

I-t-searches-reveal-rs-89-crore-channeled-for-rk-nagar-bypoll

मीडिया में लीक डाक्यूमेंट के मुताबिक, शशिकला गुट के लोगों ने अपने 7 मंत्रियों को 89.5 करोड़ रुपए आरके नगर में बांटने के लिए दिया। इसमें उन्हें 85 फीसदी वोटर्स को कैश देने का टार्गेट दिया गया। डीएमके नेता स्टालिन ने लिस्ट में शामिल मंत्रियों और इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की है। 

शुक्रवार को आयकर विभाग के अधिकारियों ने तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री और उनके करीबियों के घर पर छापा मारा था। वहां से उन्हें 5.5 करोड़ रुपए कैश मिले थे साथ ही 89 करोड़ रुपए के डाक्युमेंट्स मिले थे।

उधर, एआईएडीएमके के शशिकला गुट ने इन आरोपों से इनकार कर दिया है। पार्टी का कहना है कि ये आरोप एकदम झूठे और निराधार हैं। स्वास्थ्य मंत्री विजयभास्कर ने कहा कि आयकर विभाग को उनके घर से केवल 10,000 रुपये मिले। यह सारी कार्रवाई  उन्हें परेशान करने के लिए की गई है। 12 अप्रैल का होने जा रहा उप-चुनाव अन्नाद्रमुक के दोनों गुटों के लिए महत्वपूर्ण है। दोनों शिविर जयललिता की विरासत के लिए लड़ रहे हैं।

Mcbwohawtt-1488138028


कमेंट करें