बिज़नेस

Ola और Uber की तर्ज पर सरकार लॉन्च करेगी टैक्सी एप

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
256
| जुलाई 25 , 2017 , 13:36 IST | नई दिल्ली

दुनियाभर में ऑटोमोबाइल के क्षेत्र में आधुनिक तकनीक तेजी से आगे बढ़ रही है, ड्राइवरलेस कार यानि बिना ड्राइवर की कार दुनिया के कई देशों में आ चुकी है, लेकिन भारत में बिना ड्राइवर की कार शायद आप नहीं देख पाएंगे।

केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के मुताबिक बिना ड्राइवर कार की टेक्नोलॉजी से भारत में लाखों ड्राइवरों की नौकरियां खत्म हो सकती है। ऐसे में फिलहाल वह इसकी इजाजत नहीं दे सकते। परिवहन मंत्री के मुताबिक मौजूदा समय में ट्रांसपोर्ट सेक्टर में ट्रक और टैक्सी कंपनियों की तरफ से लाखों नौकरियां दी जा रही हैं और ड्राइवरलेस कार से यह सभी नौकरियां खतरे में आ सकती है।

हालांकि परिवहन मंत्री ने ड्राइवरलेस कार पूरी तरह से नहीं नकारा है, उन्होंने कहा है कि हो सकता है भविष्य में इस तकनीक को हम अनसुना नहीं कर सकें और इसे अपनाना मजबूरी हो जाए, लेकिन मौजूदा हालात में इस तकनीक को इजाजत नहीं दी जा सकती।

उन्होंने कहा कि सरकार ओला और उबर की तर्ज पर टैक्सी बुक करने का एप लॉच करने की योजना बना रही है। उन्होंने कहा कि सरकारी प्लेटफॉर्म से ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार मिल सकेगा साथ ही यात्रियों को सस्ता पब्लिक ट्रांसपोर्ट मिलेगा। फिलहाल यह आइडिया शुरुआती दौर में है लेकिन सरकार इसपर गंभीरता से काम कर रही है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार बिजली से चलने वाले वाहनों को बढ़ावा तो देगी, लेकिन इनका आयात नहीं करेगी। इसके अलावा बड़ी ऑटोमोबाइल कंपनियों को 'मेक इंड इंडिया' की तर्ज पर उत्पादन करने के लिए आग्रह किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा सरकार सभी पब्लिक और प्राइवेट वाहनों में जीपीएस और सैटेलाइट ट्रैकिंग को अनिवार्य बनाने की तैयारी कर रही है।


कमेंट करें