नेशनल

कोहरे के कहर से थमा उत्तर भारत, ठंड ने ली कईयों की जान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
77
| जनवरी 6 , 2018 , 10:36 IST | नई दिल्ली

दिल्ली, एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में कोहरे और ठंड का कहर जारी है। राजधानी दिल्ली से लेकर उत्तर प्रदेश तक लोगों की जिंदगी सर्दी की भेंट चढ़ रही है। देश की राजधानी दिल्ली पिछले 2 दिन से 5 डिग्री का टॉर्चर झेल रही है। कड़ाके की ठंड ने पारा ऐसा लुढ़काया कि लोगों की हड्डियां तक कांप उठी हैं। राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार और ओडिशा समेत समूचे उत्तरी और पूर्वी भारत में घना कोहरा छाया हुआ है।

राजधानी दिल्ली में शनिवार सुबह न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली एयरपोर्ट रनवे पर विजिबिलिटी 200 मीटर दर्ज की गई।

बीते कई दिनों से ठंड की वजह से रेल यात्रा भी काफी प्रभावित हो रही है। शनिवार को घने कोहरे के कारण दिल्ली से 49 ट्रेनें देरी चल रही हैं, 18 ट्रेनों को रद्द किया गया है और 13 ट्रेनों के समय में बदलाव हुआ है।

दिल्ली में ठंड ने इस सीजन के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। शुक्रवार को दिल्ली में इस सीजन का सबसे ठंडा दिन रहा, जब न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। उस पर से कोहरा भी अपना असर दिखा रहा है, जिसके चलते पिछले एक हफ्ते में पारा 10 डिग्री तक नीचे आ चुका है। गुरुवार को भी दिल्ली का तापमान 5 डिग्री सेल्सियस ही था।

इसे भी पढ़े:- भारतीय रेलवे ने रचा इतिहास, महज 7 घंटे में 100 साल पुराना पुल तोड़कर बनाया नया

ठंड से मुजफ्फरनगर और शामली में 4 लोगों की मौत हो गई। वहीं आजमगढ़ में ठंड से बचने के लिए जलाई आग में एक घर ही खाक हो गया और इसमें 4 लोगों की जान चली गई। पंजाब और हरियाणा में कोहरे और शीतलहरी का भीषण सितम जारी है।

अमृतसर में तापमान 3 डिग्री पर पहुंचा गया. केदारनाथ में भारी बर्फबारी के कारण निर्माण कामों पर ब्रेक लग गया। बद्रीनाथ के ऊंचाई वाले इलाकों में जबरदस्त बर्फबारी हो रही है और पारा माइनस 7 डिग्री तक पहुंच गया।

Cyp33TCXUAA6qeS

मौसम विभाग के मुताबिक पहाड़ी इलाकों पर हो रही जबरदस्त बर्फबारी की वजह से मैदानी इलाकों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। सर्द हवाएं चल रही हैं और जबरदस्त कोहरा हो रहा है। आने वाले कुछ दिनों तक दिल्ली के बाशिंदो को और भी ज्यादा सर्दी का सामना करना पड़ सकता है और कम तापमान का रिकॉर्ड भी टूट सकता है। यहां तक की पारा 1 डिग्री सेल्सियस तक भी जा सकता है।

दिल्ली के रोहिणी में अंगीठी के धुएं में दम घुटने से 3 साल का मासूम मौत की नींद सो गया। वहीं बेगमपुर में अंगीठी से आग सेंकते वक्त हुए हादसे में एक बच्चे की झुलसकर मौत हो गई, साथ ही मां और बेटी भी जख्मी हो गईं।


कमेंट करें