नेशनल

6 साल के बेटे के सामने मम्मी ने कराया पापा का कत्ल, आशिक बोला- बेटे को भी मार दें?

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
734
| जुलाई 23 , 2017 , 19:44 IST | गोरखपुर

20 जुलाई को गोरखपुर की कैंट पुलिस ने बीते अप्रैल महीने में हुए विवेक मर्डर केस की चार्जशीट दाखिल की। विवेक मर्डर केस वही अनोखा मामला है, जिसमें 22 अप्रैल को सुषमा नाम की महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर पति विवेक की बेरहमी से हत्या कर दी थी। ये वो घटनाएं हैं, जिन्होंने पूरे शहर को हिलाकर रख दिया था।

Gp 1

22 अप्रैल 2017 का दि‍न। एरिया गोरखपुर का कैंट क्षेत्र। पुलिस की नाइट पैट्रोलिंग टीम को देखकर बाइक सवार एक लाश को फेंककर भाग जाते हैं। पुलिस 5 किमी तक पीछा करती है और उसे गिरफ्तार कर लेती है। शव की पहचान विशुनपुरवा निवासी विवेक प्रताप सिंह (35) के रूप में होती है।

तकरीबन 12 घंटे बाद कैंट के तत्कालीन सीओ रहे अभय कुमार वारदात का खुलासा करते हैं। विवेक की हत्या उसकी पत्नी सुषमा ने प्रेमी कामेश्वर उर्फ डब्ल्यू के साथ मिलकर की थी। डब्ल्यू, विवेक के 6 साल के बेटे को भी मारना चाहता था, लेकिन सुषमा ने कहा- ये तुम्हारा ही खून है, छोड़ दो इसे। ये शॉकिंग जवाब सुनकर वो हैरान था, क्योंकि इसके पहले सुषमा ने कभी इस तरह की चर्चा नहीं की थी।

मर्डर के वक्त पड़ोस के कमरों में सोए थे चाचा-चाची

विवेक अपनी पत्नी सुषमा और बेटे के साथ मकान के फर्स्ट फ्लोर पर रहता था। वारदात के वक्त बगल के दो कमरों में उसके दो चाचा अपनी फैमिली के साथ सोए थे। मृतक के पिता देवेंद्र भी पत्नी और अन्य परिजनों के साथ गहरी नींद में थे। बता दें, विवेक एक अखबार में डिस्ट्रीब्यूशन सेक्शन में काम करते थे। वो रोज सुबह 3 से 4 के बीच फील्ड में निकल जाते थे। शाम को जल्दी लौटते था और रात 10 बजे तक सो जाते थे।

Gp 3

क्या है केस का करेंट स्टेटस

कैंट इंस्पेक्टर ओमहरि वाजपेयी ने बताया, ''सुषमा, उसके प्रेमी कामेश्वर सहित सभी आरोपियों को अरेस्ट कर जेल भेज दिया गया है। आरोपियों के खिलाफ 20 जुलाई 2017 को कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी गई है।

 

 


कमेंट करें