इंटरनेशनल

इंडोनेशिया में मोहब्बत की सजा है 100 कोड़े, शरिया कानून की आड़ में अंधा इंसाफ

icon कुलदीप सिंह | 0
316
| सितंबर 12 , 2017 , 18:31 IST

इंडोनेशिया के अचेह में ग्यारह लोगों को अलग-अलग गुनाहों के लिए सरेआम कोड़े से मारा गया। दरहसल कोड़े मारने की सजा का जिक्र शरिया कानून में हैं। आपको बता दें कि इंडोनेशिया में 90 प्रतिशत लोग मुस्लमान हैं। यहां पर ज्यादातर जगहों पर शरिया कानून को फॉलो किया जाता है। लेकिन अचेह में पूरी तरह से शरिया कानून ही लागू है। यहा पर लोगो को शराब पीने, गे सेक्स और शादी के बाद किसी और से संबंध रखने की भी मनाही है।

अगर कोई इस तरह का अपराध करता हैं तो, तो उसे शरिया कानून के अंतर्गत सजा दी जाती है। ऐसे ही सजा अपराधियों को 11 सितंबर को दी गयी। इन अपराधियों में एक महिला भी शामिल हैं। इस महिला को सबके सामने  कोड़ों से मारा गया। महिला के पति को शक था कि उसकी पत्नी का किसी और के साथ अफेयर चल रहा हैं और इसी कारण महिला को सजा मिली।

हैरान करने वाली बात तो ये है कि जब महिला को सजा दी जा रही थी तब वहा पर आम जनता के साथ साथ पुलिस भी मौजूद थी लेकिन किसी ने कुछ नहीं कहा। इसके बाद महिला को मास्क लगाए एक शख्स ने बेरहमी से पीटना शुरू किया। आपको बता दे कि यहां की पुलिस मुस्लिम महिलाओं को छोटी-छोटी बातों के लिए भी अरेस्ट कर लेती है।

टाइट कपड़े पहन कर सड़क पर निकलने पर पुलिस महिलाओं को अरेस्ट कर लेती।आपको बता दे कि सरिया कानून के तहत अपराधों के लिए 100 कोड़ों के अलावा 100 महीनों के लिए जेल और एक हजार ग्राम सोना फाइन के रूप में देना अनिवार्य होता है।


author
कुलदीप सिंह

Executive Editor - News World India. Follow me on twitter - @KuldeepSingBais

कमेंट करें