नेशनल

गोरखपुर हादसे पर योगी ने तोड़ी चुप्पी, कहा- सही आंकड़े सामने आना जरूरी

| 0
324
| अगस्त 13 , 2017 , 07:51 IST

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर में हुए हादसे पर 63 मासूम बच्चों की मौत हो गई। इस मामले में मुख्यमंत्री ने शनिवार को चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से गोरखपुर में कोई मौत नहीं हुई है। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर दुख जताया है और सभी तरहकी मदद का आश्वासन दिया है।

Brd-hospital-gorakhpur_69ad8fb6-7f3f-11e7-a713-31f90463e8eb

उन्होंने बताया कि पीएम मोदी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा और अनुप्रिया पटेल को गोरखपुर भेजा है। मैं मीडिया से तथ्यों को सभी परिप्रेक्ष्य में रखने की गुजारिश करता हूं। मेरी सरकार के दो मंत्री गोरखपुर के दौरे पर हैं। अधिकारी भी दौरे पर हैं। सिद्धार्थनाथ सिंह और आशुतोष टंडन भी गए हैं।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि क्या मौते ऑक्सीजन की कमी की वजह से हुई है? सही आंकड़ा क्या है? हमने मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। अगर ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित हुई है तो आपूर्तिकर्ता के खिलाफ कार्रवाई होगी। इतना ही नहीं बल्कि सप्लायर की भूमिका की जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया है। सप्लायर को 8 वर्ष का ठेका पिछली सरकार ने दिया था। हम सभी तथ्यों को रख पाएं तो बेहतर होगा।

India-health_8474f466-7f25-11e7-ba32-a280bea68af6

अलग-अलग टीवी चैनलों, अखबारों पर आए आकड़ों को लेकर उन्होंने मीडिया से अपील की आप सही आकड़े पेश करे। उन्होंने 7 अगस्त से बीआरडी कॉलेज में हुई मौत के आंकड़े को सामने रखा, 7 अगस्त को कुल 9 मौतें, 8 को 12 मौतें, 9 को 9 मौतें, 10 को 23 मौतें, 11 को 11 मौतें। योगी ने कहा कि पीड़ित परिवारों के साथ सरकार की संवेदना है। सरकार ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं और उसकी रिपोर्ट दी गई है।


author

कमेंट करें