राजनीति

नहीं रुक रहे यशवंत सिन्हा, बोले- गुजरात चुनाव के लिए GST में हुआ बदलाव

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
78
| अक्टूबर 7 , 2017 , 11:03 IST | नई दिल्ली

पूर्व वित्तमंत्री और बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने अपनी ही सरकार की नीतियों पर कई गंभीर सवाल उठाए है। इस बार उन्होंने जीएसटी में किए गए बदलाव पर सवाल खड़े किये हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि सरकार ने गुजरात चुनाव में राजनीतिक फायदा उठाने के लिए जीएएसटी में बदलाव किए हैं। ये बातें उन्होंने एक न्यूज वेबसाइट के साथ बातचीत में कहीं।

Yashwant

कुछ दिन पहले बिगड़ती अर्थव्यवस्था पर चिंता जताते हुए उन्होंने एक लेख लिखा था। इसकी काफी चर्चा हुई थी। एक बार फिर उन्होंने उस बहस को आगे बढ़ाया है। यशवंत सिन्हा ने क्विंट के कई सवालों पर बेबाकी से अपनी राय रखी। उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी बढ़ रही है, नौजवान भटक रहे हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर जो जवाब दिया था, उस पर यशवंत सिन्हा ने कहा,'' पीएम ने चुन-चुनकर उन्हीं आकड़ों को देश के सामने रखा, जिन आकड़ों से वो अपनी बात का समर्थन कर सकते थे, ऐसे बहुत सारे मुद्दे थे, जो मैंने उठाए थे, उनके बारे में पीएम खामोश रहे।

यशवंत सिन्हा ने आरोप लगाया कि उनके बेटे जयंत सिन्हा से लेख लिखवाकर उन्हें काउंटर करने की कोशिश की गई। उन्होंने कहा, ''मीडिया में ये भी चला कि बाप-बेटे में बहस हो रही है। उसके बाद वित्तमंत्री ने पर्सनल कमेंट भी किया, लेकिन ये सब नहीं चला, तो मेरे ख्याल से पीएम को लगा कि वो हार रहे हैं। तो उन्होंने आगे आकर वो सारी बातें रखीं।

गुजरात के लोकप्रिय स्नैक्स खाखरा पर जीएसटी किया गया कम

जीएसटी के नए बदलाव में जिन सामानों को सस्ता किया गया है इनमें गुजरात में लोकप्रिय स्नैक खाखरा भी शामिल है। इस पर पहले 12 प्रतिशत जीएसटी लगता था अब इसे घटाकर पांच प्रतिशत कर दिया है। सोशल मीडिया में खासकर इस घोषणा को गुजरात चुनाव से जोड़ते हुए खूब मजेदार टिप्पणियां आई हैं। व्यंग्यकार आलोक पुराणिक ने फेसबुक पर लिखा है, ‘गुजरात चुनाव से पहले खाखरा पर जीएसटी कम हो गया है. एमपी चुनाव से पहले पोहा-जलेबी खाने वालों को सब्सिडी मिल सकती है।

ट्विटर हैंडल‏ @dhongikaka चुटकी है, ‘इस दीवाली पर भक्त सोनपापड़ी की जगह खाखरा गिफ्ट में देंगे।

 


कमेंट करें