इंटरनेशनल

जिम्बाब्वे में तख्तापलट की आशंका, फायरिंग के बीच सैनिकों से घिरा राष्ट्रपति का घर

अर्चित गुप्ता | 0
102
| नवंबर 15 , 2017 , 09:42 IST | नई दिल्ली

जिम्बाब्वे की राजधानी हरारे में तीन विस्फोट के बाद सेना ने सरकारी टीवी ब्रॉडकास्टर को सीज कर दिया है। इतना ही नहीं जिम्बाब्वे में सेना और सरकार के बीच बढ़ते राजनीतिक तनाव के दौरान सैनिकों ने राजधानी हरारे में मौजूद नैशनल ब्रॉडकास्टर्स जेडबीसी के दफ्तर को अपने कब्जे में कर लिया है। राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे के आवास के बाहर कई राउंड गोलियां भी चलने की खबर है। इस बीच अमेरिका और ब्रिटेन ने अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है।जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति का घर सैनिकों से घिरा देखा गया है और वहां गोलियों की आवाज भी सुनी गई हैं।

लेकिन ऐसी भी संभावना जताई जा रही है कि 37 साल का शासन जाते देख खुद की रक्षा के लिए फायरिंग की गई है। राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे के आवास के बाहर कई राउंड गोलियां भी चलने की खबर है। वहीं, न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक यूनिवर्सिटी ऑफ जिम्बाब्वे के पास भी धमाके की आवाज सुनी गई है। बीबीसी की खबर के मुताबिक दक्षिण अफ्रीका में जिम्बाब्वे के राजदूत इसाक मोयो ने किसी तरह के तख्तापलट की संभावना से इनकार किया है।

जिम्बाब्वे में गहराए इस संकट को देखते हुए अमेरिका, ब्रिटेन समेत कुछ देशों ने वहां रह रहे अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है। जबकि इस बीच अमेरिका ने अपने नागरिकों को अगले आदेश तक सुरक्षित स्थान पर शरण लेने के निर्देश जारी किए हैं। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा, 'वह स्थिति की निगरानी कर रहा है।' विदेश मंत्रालय ने सभी पक्षों से शांतिपूर्ण हल निकालने की अपील की है।


कमेंट करें