नेशनल

पूर्व DGP के विवादित बोल, निर्भया की मां की फिजिक इतनी अच्छी तो वो कितनी सुंदर होगी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2888
| मार्च 16 , 2018 , 17:41 IST

दिल्ली के गैंगरेप की शिकार निर्भया के बारें में कर्नाटक के पूर्व डीजीपी ने विवादित बयान दिया है। कर्नाटक की राजधानी बैंगलोर में महिलाओं को सम्मानित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने दिल्ली गैंगरेप की शिकार निर्भया की मां को लेकर एक विवादित बयान दिया है।

बैंगलोर मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान ने निर्भया की मां आशा देवी के बारे में कहा कि उनका ‘फिजीक’ (काया) बहुत ही सुंदर है और वह ‘सिर्फ अंदाजा लगा सकते हैं कि निर्भया कितनी सुंदर रही होगी।’

उनकी ​इस टिप्पणी पर कई लोगों ने आपत्ति दर्ज की है। हैरत यह है कि वो यहीं नहीं रूके इसके बाद भी वो महिलाओं को सुरक्षा सुझाव में भी विवादित बातें बोलते रहे।

महिलाओं को सुर​क्षा संबंधी सुझाव देते समय उन्होंने कहा कि जब आप को लगे की आप विरोधी को हरा नहीं सकती हैं तो आत्म समर्पण कर देना चाहिए। इस प्रकार से जान का जोखिम नहीं होता है।

लेकिन अपने भाषण में, आशा देवी ने कहा कि न्याय के के लिए उन्हें एक लंबी लड़ाई लड़ने पड़ी, जिससे उन्हें काफी निराशा हुई। उन्होंने कहा कि "हमारे पास कानून, पुलिस, सरकार है लेकिन न्याय ऐसा है जो आसान नहीं होता है। उनकी बेटी, 23 वर्षीय फिजियोथेरेपी स्टूडेंट थी। जिसके साथ 16 दिसंबर 2012 की रात दिल्ली में बस में बलात्कार की घटना को अंजाम दिया गया। भारत की इस बहादुर बेटी ने उसी साल 29 दिसंबर को अपना जीवन गंवा दिया था। लेकिन उसके दर्द व पीड़ा ने विरोध प्रदर्शनों की एक श्रृंखला शुरू की, जिसके कारण अंततः महिलाओं के खिलाफ अपराधों, बलात्कार, शिकार, अादि मामलों में कानूनों में बड़े संशोधन हुए।

बता दें कि 2012 में दिल्ली में निर्भया के साथ रेप की जघन्य वारदात को अंजाम दिया था। अपनी बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए निर्भया की मां ने लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी। कार्यक्रम में पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान ने कहा, “मैं निर्भया की मां को देख पा रहा हूं, उनके पास कितनी अच्छी फिजीक है, मैं सिर्फ अंदाजा लगा सकता हूं कि निर्भया कितनी सुंदर रही होगी।”

इस कार्यक्रम में बैंगलोर की जानी-मानी आईपीएस डी रूपा भी मौजूद थीं। इस कार्यक्रम से जुड़ी तस्वीरें आईपीएस डी रूपा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। कार्यक्रम में मौजूद एक्टिविस्ट अनिता चेरिया ने कहा कि वह डीजीपी के बयान को सुनकर हैरान रह गईं। वह कार्यक्रम को छोड़कर जाना चाह रहीं थीं, लेकिन निर्भया के माता-पिता का आदर करते हुए उन्होंने ऐसा नहीं किया। हालांकि पूर्व पुलिस ऑफिसर के बयान पर उन्होंने आपत्ति जताई। उन्होंने कहा, “जब पुलिस के टॉप अधिकारी, जो ऊंचा ओहदा रखते हैं, ऐसा बोलना जायज समझते हैं, किसी महिला की शारीरिक काया पर टिप्पणी ठीक समझते हैं, तो हमें बतौर एक समाज लोगों की मानसिकता को बदलने के लिए लंबी दूरी तय करनी होगी।”


कमेंट करें