खेल

‘फ्रीडम सीरीज’ नाम से खेली जाएगी भारत-अफ्रीका टेस्ट सीरीज

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
243
| दिसंबर 23 , 2017 , 15:26 IST

भारतीय टीम के दक्षिण अफ्रीका दौरे में खेली जानी वाली तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का नाम 'फ्रीडम सीरीज' रखा गया है। यह दक्षिण अफ्रीका की 1991 तक खेलों में बहिष्कार के बाद वापसी के लिये भारत के प्रयासों के सम्मान में पहले इस दौरे का आधिकारिक नाम फ्रेंडशिप श्रृंखला रखा गया था।

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, भारत रंगभेद के प्रमुख विरोधियों में रहा है। दोनों देश इस श्रृंखला का नाम फ्रीडम श्रृंखला रखने पर सहमत हैं क्योंकि दोनों देशों का अहिंसक तरीके से आजादी प्राप्त करने साझा इतिहास रहा हैं। दोनों देशों में क्रिकेट के प्रति जुनून की कोई कमी नहीं ।

वही दूसरी तरफ अगर दोनों टीमों की बात करें तो भारतीय खेमा आत्म विश्वास से लबरेज होगा, सीरीज से पहले रोहित शर्मा अपने जोरदार फार्म में आ चुके हैं।

Maxresdefault

पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका का ‘मजबूत’ गेंदबाजी आक्रमण केपटाउन में पांच जनवरी से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज में भारतीय बल्लेबाजी क्रम को दबाव में डालेगा।

दुनिया की नंबर-1 टीम भारत और नंबर-2 टीम दक्षिण अफ्रीका के बीच दक्षिण अफ्रीका में होने वाले इस मुकाबले के काफी रोमांचक होने की उम्मीद की जा रही है और स्मिथ का मानना है कि दो सत्र पहले भारत में 0-3 की हार के बाद मेजबान टीम अतिरिक्त प्रेरित होगी।

स्मिथ ने कहा, मुझे लगता है कि दक्षिण अफ्रीका की टीम काफी मजबूत होगी। एबी डिविलियर्स की वापसी से उनकी टीम काफी मजबूत नजर आती है। गेंदबाजी भी काफी मजबूत है। उनके पास चुनने के लिए चार बेहतरीन अनुभवी तेज गेंदबाज हैं और कुछ युवा तेज गेंदबाज भी।

जानकारों का मानना है कि केपटाउन में भारत के पास सर्वश्रेष्ठ मौका होगा। दक्षिण अफ्रीका में गेंद का मूवमेंट इतना अधिक परेशान नहीं करेगा, वहां अतिरिक्त उछाल है और विकेट पर काफी मूवमेंट नहीं होगी और धीमा उछाल होगा और खेल के आगे बढ़ने पर स्पिनरों को कुछ मदद मिलेगी।

Yo

विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम बेहतरीन फॉर्म में है और लगातार नौ सीरीज जीत चुकी है। इनमें से अधिकांश जीत हालांकि उप महाद्वीप में हासिल की गई। भारत ने जब पिछली बार दक्षिण अफ्रीका दौरा किया था, तो कप्तान कोहली, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे अच्छे फॉर्म में थे, जबकि रोहित शर्मा और शिखर धवन को जूझना पड़ा था।




कमेंट करें