नेशनल

रेलवे कर्मचारियों को त्यौहरों पर मिली खुशखबरी, 78 दिनों के बोनस का हुआ ऐलान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1785
| अक्टूबर 10 , 2018 , 19:32 IST

केंद्रीय मंत्रिमंड़ल ने बुधवार को करीब 11.91 लाख अराजपत्रित रेलवे अधिकारियों को 78 दिनों का उत्पादकता बोनस देने के लिए 2,044.31 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई एक मंत्रिमंडल बैठक के बाद यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इसकी घोषणा की। प्रसाद ने कहा, "इस फैसले के तहत प्रत्येक कर्मी को 78 दिनों के लिए करीब 17,951 रुपये मिलेंगे।"

यह बोनस रेलवे गैर राजपत्रित कर्मचारियों को दिया जाता है, जिनकी संख्या 11.91 लाख है। हर साल दशहरे से पहले इस बोनस का भुगतान किए जाने की परंपरा रही है। इसमें रेलवे प्रॉटेक्शन फोर्स और रेलवे प्रॉटेक्शन स्पेशल फोर्स को शामिल नहीं किया जाता। मतलब इन रेलवे कर्मचारियों में रेलवे सुरक्षा बल (RPF) और रेलवे सुरक्षा विशेष बल (RPSF) के कर्मचारी आदि शामिल नहीं होते हैं।

रेलवे सूत्रों के मुताबिक इस बोनस के तहत एक एंप्लॉयी के खाते में 18 हजार रुपये तक की रकम आ सकती है। यह लगातार 7वां साल है, जब रेलवे कर्मियों को 78 दिन के बोनस का भुगतान किया जाएगा। प्रेस वार्ता के अनुसार, प्रसाद ने कहा कि इससे रेलवे पर 2044.31 करोड़ रुपए का भार पड़ेगा।

रेलवे भारत सरकार का पहला प्रतिष्ठान है, जहां 1971-80 में उत्पादकता से जुड़ा बोनस देना प्रारंभ किया गया था। उस समय विचार का प्रमुख विषय यह था कि अर्थव्यवस्था के प्रदर्शन में ढांचागत समर्थन देने में रेलवे की भूमिका महत्वपूर्ण है।

नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवेमैन के महासचिव एम रघुवाया ने कहा कि ‘रेलवे ने पिछले साल की तुलना में 16,000 करोड़ रुपए ज्यादा कमाए हैं। वहीं, करीब 1161 करोड़ टन की माल ढुलाई की है। इसलिए हमने 80 दिन के बोनस की मांग की थी। हालांकि, हम 78 दिन के बोनस पर सहमत हो गये हैं।’ 


कमेंट करें