नेशनल

GST काउंसिल की 25वीं बैठक, पेट्रोल और डीजल आ सकते हैं दायरे में

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
444
| जनवरी 18 , 2018 , 09:51 IST

फरवरी के पहले सप्ताह में आम बजट पेश करने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली दिल्ली में गुरुवार को जीएसटी काउंसिल की 25वीं बैठक होने जा रही है। खबरों के मुताबिक, 70 से ज्यादा चीजों पर जीएसटी की दरें कम होने की संभावना है। इस दौरान आम आदमी की सबसे ज्यादा नजर पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने पर रहेगी।

इस बैठक की अध्यक्षता वित्त मंत्री अरुण जेटली की करेंगे। जिसमें राज्यों के वित्त मंत्री भी शामिल होंगे। माना जा रहा है कि घरेलू आइटम से लेकर खेती में काम आने वाले सामान तक सैकड़ों चीजों के दाम सस्ते हो सकते हैं।

इनमें रोजमर्रा के इस्तेमाल में आने वाली कई चीजें शामिल हैं। इस कदम से आम लोगों को राहत मिलेगी। बता दें, 2 हफ्ते बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली देश का आम बजट पेश करेंगे।

इसे भी पढ़ें:- रायसीना वार्ता दौरान आतंक पर बोलीं सुषमा स्वराज, कहा-सारे समस्या की जड़ है आतंकवाद

पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत 65 डॉलर के पार पहुंच चुकी है। इसका असर ये हो रहा है कि देश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

केंद्र सरकार की तरफ से एक्साइज ड्यूटी घटाए जाने से भी कोई राहत नहीं मिल रही है। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लग रही इस आग से आम आदमी को बचाने के लिए सरकार के पास अब दो ही रास्ते हैं।

बढ़ते दामों से आम आदमी को राहत दिलाने के लिए केंद्र सरकार दो कदम उठा सकती है। इसमें एक है, पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाना और दूसरा कि वह राज्यों को वैट घटाने के लिए कहे। पेट्रोल और डीजल जीएसटी के तहत आएगा या नहीं, इस पर आज की मीटिंग में फैसला हो सकता है।


कमेंट करें