नेशनल

Revenge: मारे गए पुलवामा हमले के मास्टर माइंड गाजी और कामरान, 4 जवान भी शहीद

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2330
| फरवरी 18 , 2019 , 16:55 IST

जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में चार जवान शहीद हो गए। पुलिस ने सोमवार को बताया कि मुठभेड़ रविवार देर रात शुरू हुई जब सुरक्षा बलों, राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) के आतंकवादियों की यहां छिपे होने की खुफिया सूचना मिलने के बाद पिंगलेना गांव को घेर लिया। 

गाजी रशीद ढ़ेर-

सुरक्षाबलों ने भी जैश-ए-कमांडर के दो कमांडरों को मौत के घाट उतार दिया है। उम्मीद जताई जा रही है कि ये दोनों आतंकी कामरान और गाजी राशिद हैं, जिन्होंने पुलवामा में हुए आतंकी हमले की साजिश रची थी। इन दो आतंकियों को मारने के लिए सुरक्षाबलों को एक बिल्डिंग को ध्वस्त कर दिया जिसमें पुलवामा हमले का मास्टर माइंड गाजी राशिद के होने की भी खबर है। हालाकि अभी कोई सेना की तरफ से अधिकारिक बयान नही आया है।

पुलिस सूत्रों ने कहा, "घेराबंदी जैसे ही कड़ी हुई छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी।" इलाके में खोज अभियान चलाया जा रहा है। शहीद हुए जवानों में एक अधिकारी भी शामिल हैं। 

देर रात को इस ऑपरेशन को 55RR, CRPF और SOG के जवानों ने मिलकर चलाया। पुख्ता जानकारी मिलने के बाद ही सुरक्षाबलों ने इस ऑपरेशन को शुरू किया। जो जवान इस मुठभेड़ में शहीद हुए हैं उनमें मेजर डीएस डोंडियाल, हेड कॉन्स्टेबल सेवा राम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरी सिंह शामिल हैं। एक जवान घायल है जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

यह मुठभेड़ पुलवामा में जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर सीआरपीएफ काफिले पर हुए आत्मघाती हमले के एक सप्ताह से भी कम समय में हुई है। इस हमले में 49 जवान शहीद हुए थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार, मुठभेड़ जिस जगह हुई वह आत्मघाती हमले के स्थान से लगभग 10 किलोमीटर दूर है।

सेना को मिली है खुली छूट-:

40 जवानों पर हुए इस हमले के बाद से ही भारत सरकार ने कड़ा रुख अख्तियार किया है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह सार्वजनिक मंचों से बयान दे चुके हैं कि उन्होंने सेना को खुली छूट दी है। PM मोदी ने कहा था कि उन्होंने सेना को कहा है कि बदला लेने की जगह और समय वह खुद तय करें।


कमेंट करें