नेशनल

JGU दीक्षांत समारोह में 551 छात्रों को मिली डिग्री, उपराष्ट्रपति बोले-लड़कियों को आगे बढ़ने की जरूरत

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2442
| अगस्त 8 , 2018 , 20:04 IST

ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी ने दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू सभागार में अपने सातवें दीक्षांत समारोह के साथ स्थापना दिवस का आयोजन किया। इस समारोह में स्कूलों के कानून, व्यापार, अंतर्राष्ट्रीय मामलों समेत कई क्षेत्र के 551 छात्रों को स्तानक की डिग्री प्रदान की गई। यह समारोह ओपी जिंदल के 88वें जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित करने के साथ शुरू हुआ। उनकी याद में  ही विश्वविद्यालय की स्थापना हुई थी।

समारोह के मुख्य अतिथि भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि देश में लड़कियों की शिक्षा पर पर्याप्त ध्यान की जरूरत है। वेंकैया नायडू ने समय की मांग के अनुसार बच्चियों व लड़कियों को पर्याप्त अवसर मुहैया कराने की जरूरत पर जोर दिया ताकि उन्हें प्रत्येक क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा व आगे बढ़ने में मदद की जा सके।

उन्होंने कहा, हम लड़कियों की शिक्षा पर पर्याप्त ध्यान नहीं दे रहे हैं। अब परिवर्तन होना चाहिए, महिलाओं को उनका हक मिलना चाहिए। अगर आप उन्हें पर्याप्त अवसर मुहैया कराएंगे तो वह आगे बढ़ेंगी।

नायडू ने कहा, हमें अपने युवाओं की आकांक्षा को पूरा करने की जरूरत है। इसके लिए हमारी मूल शिक्षा प्रणाली को फिर से उन्मुख किया जाना चाहिए। सरकारों को कौशल उन्नयन पर भी अधिक ध्यान देना चाहिए। हमारे देश में विशाल प्रतिभा है, लेकिन इसकी पहचान और इसे प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है।

वहीं इस अवसर पर बोलते हुए ओपी जिंदल विश्वविद्यालय के कुलाधिपति नवीन जिन्दल ने कहा कि "आज एक विशेष दिन है, यह सभी के लिए उत्सव, प्रतिबिंब और कृतज्ञता का दिन है। यह मेरे पिता श्री ओम प्रकाश जिंदल की 88वें जन्मदिन का दिन है। JGU उनकी स्मृति में स्थापित किया गया था। वह हमेशा कहते थे कि शिक्षा सबसे बड़ा उपहार है जो किसी को भी दिया जा सकता है। काश वह यहां कुछ समय में किए गए अविश्वसनीय काम को देखने के लिए होते।"

इस समारोह में हरियाणा के राज्यपाल प्रोफेसर कप्तान सिंह सोलंकी, दिल्ली हाईकोर्ट की एक्टिंग चीफ जस्टिस सुश्री जस्टिस गीता मित्तल, जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला, पूर्व कानून मंत्री शांति भूषण, दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर जैसे अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।


कमेंट करें