राजनीति

'आप' को बड़ा झटका, चुनाव आयोग ने कहा- क्यों न आपका चुनाव चिन्ह रद्द किया जाए

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
2063
| सितंबर 11 , 2018 , 20:46 IST

आम आदमी पार्टी को एक बार फिर बड़ा झटका लगा है। चुनाव आयोग ने मंगलवार को जारी नोटिस में आम आदमी पार्टी से स्पष्टीकरण देने के लिए कहा है। चुनाव आयोग के मुताबिक अगर नोटिस मिलने के बीस दिन के भीतर आम आदमी पार्टी जवाब नहीं देती है, तो उसका चुनाव चिन्ह रद्द कर दिया जाएगा। आयोग ने यह भी आरोप लगाया कि आप ने चंदे की रकम छिपाई है और आयोग के समक्ष गलत जानकारी पेश की है।
आयोग का कहना कि वो आम आदमी पार्टी को 2014-15 की चंदे की जानकरी भेजी थी, जो आयोग को 30 सितंबर, 2015 को मिली। वही आयोग कहती है कि आप ने 20 मार्च 2017 को चंदे की संशोधित रिपोर्ट भेजी।

ARVIND-KEJRIWAL

बता दें कि आम आदमी पार्टी ने अपनी पहली रिपोर्ट में 2696 दानदाताओं की सूची भेजी थी, जिनसे 37 करोड़ 45 लाख रूपए का कुल चंदा मिला। उसके बाद आप ने अपनी संशोधित रिपोर्ट में 8262 दानदाताओं से 37 करोड़ 60 लाख रुपए का चंदा मिलना दिखाया। उसके बाद आयोग का कहना है कि जब उन्हें 5 जनवरी, 2018 को सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज यानी सीबीडीटी से रिपोर्ट मिली, जिसमें आम आदमी पार्टी ने 2014-15 के चंदे में कई विसंगतियां पाई गईं। सीबीडीटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि आप ने चंदे के मामले में पारदर्शिता नहीं बरती है और आयोग के नियमों का उल्लंघन किया है।

चंदे छुपाने का लगा आम आदमी पार्टी पर आरोप

चुनाव आयोग का कहना है कि आप के बैंक अकाउंट में 67.67 करोड़ रुपए क्रेडिट हुए, जिसमें दान से मिले हुए 64.44 करोड़ रुपए भी शामिल हैं। लेकिन पार्टी ने अपनी आय 54.15 करोड़ ही दिखाई और 13.16 करोड़ का कोई हिसाब नहीं मिला। रिपोर्ट में कहा गया है कि हवाला कारोबारी से 'आप' को हवाला ऑपरटर्स के जरिए 2 करोड रुपए भी मिले, जिन्हें पार्टी ने चंदे के तौर पर दिखाया।

आयोग का कहना है कि प्रथम दृष्टि में आप ने चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का उल्लंघन किया है और पैरा चुनाव चिन्ह, 1968 16ए के तहत उनका चिन्ह जब्त किया जा सकता है। वहीं आयोग ने नोटिस मिलने के बाद पार्टी को 20 दिन के भीतर जवाब देने को कहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक जनप्रतिनिधि अधिनियम के सेक्शन 29सी के तहत आप ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट और आयोग को गलत जानकारी पेश की। इसमें यह भी कहा गया है कि एक बार सवाल उठाने पर आम आदमी पार्टी ने अपने खातों की जानकारी बदली।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें