नेशनल

JNU मामला: यौन उत्पीड़न के आरोपी प्रोफेसर जौहरी गिरफ्तार, जमानत पर रिहा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
450
| मार्च 21 , 2018 , 15:23 IST

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के प्रोफेसर अतुल जौहरी को मंगलवार को कथित यौनाचार के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन एक स्थानीय अदालत ने उन्हें जमानत दे दी। 


पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, "उन्हें गिरफ्तार कर पटियाला हाउस अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें जमानत मिल गई।"

दिल्ली पुलिस ने जौहरी से हिरासत में पूछताछ की मांग नहीं की, जिसके बाद उन्होंने जमानत याचिका दायर की। उन्हें जमानत मिल गई, क्योंकि उन्होंने कहा कि जेल जाने से उनका करियर प्रभावित होगा।



पुलिस ने नौ छात्राओं की अलग-अलग शिकायतों में जौहरी के खिलाफ आठ प्राथमिकी दर्ज की है। छात्राओं ने जौहरी पर स्कूल ऑफ लाइफ साइंसेज की प्रयोगशाल में यौनाचार करने का आरोप लगाया है।

इससे पहले दिन में जौहरी को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था।

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, "आठ प्राथमिकियों और अन्य छात्राओं द्वारा की गई इसी तरह की शिकायतों में पूछताछ के दौरान जौहरी के बयान की वीडियो रिकार्डिग की गई।"



संयुक्त पुलिस आयुक्त अजय चौधरी ने कहा, "हमने शिकायतकर्ताओं के बयान दर्ज किए हैं। कुछ अन्य छात्राओं ने पुलिस से संपर्क किया है और जौहरी के खिलाफ उसी तरह के आरोप लगाए हैं। इसकी जांच की जा रही है। कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी। जांच की निगरानी अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त मोनिका भारद्वाज कर रही हैं।"

यह गिरफ्तारी जेएनयू के विद्यार्थियों द्वारा प्रोफेसर के खिलाफ कार्रवाई करने में हो रही देरी को लेकर किए गए विरोध प्रदर्शन के बाद की गई है।

छात्रों ने दी धरने ​की चेतावनी -

छात्रसंघ की अध्यक्ष गीता का कहना है कि पुलिस के समक्ष चार छात्राओं ने प्रोफेसर अतुल जौहरी के खिलाफ शिकायत दी थी लेकिन पुलिस ने एक ही लड़की के बयान पर एफआईआर दर्ज किया है। उन्होंने स्थानीय पुलिस पर जेएनयू प्रशासन के इशारे पर काम करने का आरोप लगाया है। छात्र संघ ने चेतावनी दी है कि यदि प्रोफेसर जौहरी को गिरफ्तार नहीं किया गया तो छात्र सड़क पर ही धरने पर बैठे रहेंगे। धरना तभी समाप्त होगा जब प्रोफेसर को गिरफ्तार कर लिया जाता है। 


कमेंट करें