खेल

एलिस्टर कुक ने की गावस्कर के रिकॉर्ड की बराबरी, एशेज़ में जड़ा दोहरा शतक

icon कुलदीप सिंह | 0
342
| दिसंबर 28 , 2017 , 13:21 IST

इंग्लिश क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और ओपनर एलिस्टर कुक ने बुधवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट में नया कीर्तिमान अपने नाम कर लिया है। मेलबर्न में चल रहे बॉक्सिंग-डे टेस्ट में कुक ने अपने करियर का 32वां सैकड़ा ठोका, बता दें कुक इस मैच में दोहरा शतक लगाकर नाबाद खेल रहे हैं। एलिस्टर कुक (नाबाद 244) के नाबाद दोहरे शतक के दम पर इंग्लैंड ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच के तीसरे दिन गुरुवार को स्टम्प्स तक नौ विकेट खोकर 491 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा कर दिया है। मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर जारी इस मैच में आस्ट्रेलिया की ओर से पहली पारी में बनाए गए 327 रनों के आधार पर 164 रनों की बढ़त हासिल कर ली है। कुक पिच पर डटे हुए हैं। उनके साथ जेम्स एंडरसन नाबाद हैं। 

एलिस्टर कुक ने की गावस्कर के रिकॉर्ड की बराबरी 

कुक ने एशेज सीरीज़ में करीब सात साल के बाद पहला शतक जमाने में सफलता प्राप्त की। इसी के साथ कुक ने भारत के पूर्व कप्तान और लिटिल मास्टर के नाम से मशहूर सुनील गावस्कर के वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी की। कुक विदेशी खिलाड़ी होने के नाते ऑस्ट्रेलिया के स्टेडियमों पर पांच टेस्ट शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने। बाएं हाथ के बल्लेबाज ने 2006 में पर्थ में 116, 2010 में ब्रिसबेन और एडिलेड में क्रमशः 235* और 148 रन, 2011 में सिडनी में 189 रन और आज मेलबर्न में नाबाद 104 रन की पारी खेली थी।

मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में बुधवार को लगाया गया यह शतक कुक का ऑस्ट्रेलिया में पांचवां शतक है। इससे पहले महान भारतीय बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने ऑस्ट्रेलिया के पांच मैदानों में शतकों का पंजा जड़ा था। अब कुक ऑस्ट्रेलिया में सर्वाधिक टेस्ट शतक लगाने के मामले में गावस्कर के साथ संयुक्त रूप से पहले स्थान पर पहुंच गए हैं। वैसे ऑस्ट्रेलिया में कई विदेशी बल्लेबाज हैं, जिन्होंने चार टेस्ट शतक जमाए हैं। इस लिस्ट में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान डेविड गॉवर, वेस्टइंडीज के सर्वकालिक महान बल्लेबाज विव रिचर्ड्स, रिची रिचर्डसन, क्रिस ब्रॉड, जे एड्रिच, क्लाइव लॉयड और क्रिकेट के भगवान माने जाने वाले सचिन तेंदुलकर शामिल हैं।

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ों की कुक ने की खूब धुनाई 

अपने दूसरे दिन के स्कोर दो विकेट पर 192 रनों से आगे खेलने उतरी इंग्लैंड ने 218 को स्कोर पर दिन का पहला विकेट कप्तान जोए रूट (61) के रूप में गंवाया। पैट कमिंस की गेंद पर रूट नाथन ल्योन के हाथों लपके गए। 133 गेंदों का सामना करते हुए रूट ने सात चौक लगाए। 

रूट के आउट होने के बाद एक छोर पर इंग्लैंड की पारी को संभाले खड़े कुक को पवेलियन भेजने में आस्ट्रेलिया का हर गेंदबाज नाकाम रहा। हालांकि, इस बीच टीम के गेंदबाजों ने अन्य बल्लेबाजों को आउट कर इंग्लैंड को कमजोर करने की कोशिश की। 

कप्तान रूट के आउट होने के बाद टीम के चार बल्लेबाज- डेविड मलान (14), जॉनी बेयरस्टॉ (22), मोइन अली (20), क्रिस वोक्स (26) और टॉम कुरान (4) ज्यादा देर तक पिच पर नहीं टिक पाए। 

कुरान का विकेट गिरने के बाद कुक का साथ देने आए स्टुअर्ट ब्रॉड (56) ने 100 रनों की शतकीय साझेदारी कर टीम को 473 को स्कोर तक पहुंचा दिया। इसी स्कोर पर वह कमिंस की गेंद पर उस्मान ख्वाजा के हाथों लपके गए। 

कुक ने एंडरसन के साथ मिलकर दिन का खेल समाप्त होने तक बिना कोई और विकेट गंवाए 18 रन जोड़े और टीम को 491 के स्कोर तक पहुंचाया। 

इस पारी में आस्ट्रेलिया के लिए जोश हाजलेवुड, ल्योन और कमिंस ने तीन-तीन विकेट लिए हैं। 


author
कुलदीप सिंह

Executive Editor - News World India. Follow me on twitter - @KuldeepSingBais

कमेंट करें