नेशनल

आम्रपाली बिल्‍डर्स पर सख्‍त हुआ सुप्रीम कोर्ट, मांगा 41000 घरों का प्‍लान

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
478
| जनवरी 31 , 2018 , 21:04 IST

सुप्रीम कोर्ट ने नोएडा के रियल एस्‍टेट डेवलपर आम्रपाली पर कड़ी सख्ती दिखाई है। आम्रपाली बायर्स की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बिल्डर को एक हफ्ते में अधूरे प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए तैयार किए गए प्लान की रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए हैं। दरअसल, नेफोवा ने आम्रपाली के अधूरे प्रोजेक्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट में 6 याचिका डाली हुई हैं तथा नेफोवा के साथ हजार से भी अधिक संख्या में आम्रपाली के फ्लैट खरीदार सुप्रीम कोर्ट गए हुए हैं।

कोर्ट ने नेफोवा की याचिका पर सुनवाई करते हुए आम्रपाली बिल्डर को जमकर फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ये बेहद गंभीर मामला है और लोगों ने अपने जीवन भर की कमाई के पैसे लगा रखे हैं। सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली से उसके सभी अधूरे प्रोजेक्ट से संबंधित सभी प्लान मांगते हुए बिल्डर से पूछा कि उन्हें प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए कितने पैसे की जरूरत है और वह 41000 लोगों के फ्लैट पूरा करने के लिए कैसे करेंगे?

Unde4r

इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने IRP को भी फटकार लगाई कि वे इस मामले में कोई दखल नहीं देंगे। वहीं सुनवाई के दौरान गैलेक्सी कंपनी ने आम्रपाली के सभी प्रोजेक्ट को पूरा करने संबंधी सभी कागजात जमा किये हैं। जिसपर सभी पक्षों से रेसोल्यूशन मांगा गया है।

इसके साथ ही आम्रपाली को ये निर्देश दिया गया कि वो एक सप्ताह के अंदर अपने हर प्रोजेक्ट को पूरा करने के प्लान संबंधित रेसोल्यूशन भेजे। अब इस मामले की अगली सुनवाई 21 फरवरी को होगी।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें