नेशनल

रामलीला मैदान में अन्ना का आंदोलन, कहा- मांग पूरी करवाए बिना नहीं हटूंगा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1569
| मार्च 23 , 2018 , 21:17 IST

छह साल बाद एक बार फिर समाजसेवी अन्ना हजारे शुक्रवार को दिल्‍ली के रामलीला मैदान पहुंचे। इस बार उन्होंने अपनी तमाम मांगों को लेकर केंद्र में बैठी भारतीय जनता पार्टी सरकार को खबरदार किया है।

अन्‍ना हजारे ने अनशन की शुरुआत से पहले केंद्र सरकार को संबोधित करते हुए कहा- 'प्रदर्शनकारियों को दिल्‍ली लेकर आ रही ट्रेन आपने कैंसिल कर दी। आप उन्‍हें हिंसा की ओर धकेलना चाहते हैं। मेरे लिए भी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। मैं कई पत्र लिखे और कहा था कि मुझे सुरक्षा नहीं चाहिए। आपकी सुरक्षा मुझे बचा नहीं सकती। सरकार का धूर्त रवैया सही नहीं है।'

लोकपाल और किसानों से जुड़े मुद्दों के लेकर अन्ना आज से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ रहे हैं। इस महाआंदोलन की शुरुआत करने से पहले अन्ना सुबह राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि स्थल पर गए, वहां उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। उसके बाद अन्ना शहीदी पार्क गए। इस बीच उनके कई समर्थक मौज़ूद थे।

देश भर से बड़ी संख्या में लोगों के पहुंचने की संभावना है। दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए हैं। रामलीला मैदान के चारों तरफ व अंदर भी चप्पे-चप्पे पर पैरा मिलिट्री व दिल्ली पुलिस तैनात है। किसी भी तरह की संभावनाओं से निबटने के लिए दिल्ली पुलिस ने पूरी तैयारी की है।

क्या है अन्ना की मांगें

  1. किसानों के कृषि उपज की लागत के आधार पर डेढ़ गुना ज्‍यादा दाम मिले।
  2. खेती पर निर्भर 60 साल से ऊपर उम्र वाले किसानों को प्रतिमाह 5 हजार रुपए पेंशन।
  3. कृषि मूल्य आयोग को संवैधानिक दर्जा तथा सम्पूर्ण स्वायत्तता मिले।
  4. लोकपाल विधेयक पारित हो और लोकपाल कानून तुरंत लागू किया जाए।
  5. लोकपाल कानून को कमजोर करने वाली धारा 44 और धारा 63 का संशोधन तुरंत रद्द हो।
  6. हर राज्य में सक्षम लोकायुक्त की नियुक्‍त किया जाए।
  7. चुनाव सुधार के लिए सही निर्णय लिया जाए।

कमेंट करें