नेशनल

आतंकियों को सेना की चेतावनी, कहा- जो भी सेना के खिलाफ बंदूक उठाएगा वो मारा जाएगा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2274
| फरवरी 19 , 2019 , 11:36 IST

पुलवामा में हुए आतंकी हमले और उसके तुरंत बाद सुरक्षा बलों के साथ चले पुलवामा में एनकांउटर जिसमें मास्टरमाइंड कामरान और गाजी को हमले के 100 घंटे के अंदर मार दिया गया। इन सभी बातों के उपर आज यानी मंगलवार को सुरक्षाबलों की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई।

जिसमें चिनार कॉर्प्स के लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिलन्न जम्मू-कश्मीर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी, नगर के आईजी एसपी पाणी, CRPF के आईजी जुल्फिकार हसन और GoC विक्टर फोर्स के मेजर जनरल मैथ्यू शामिल हुए।

प्रेस कॉन्फ्रेंस का मुख्य उद्देश्य आतंकियों को हिदायत देना था। इसके साथ ही पत्थरबाजों को भी इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस से चेतावनी भी दे दी गई। लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिलन्न ने की अपील, 'मैं जम्मू-कश्मीर की माताओं से अपील करता हूं कि अपने बच्चों को समझाएं और गलत रास्ते पर चले गए लड़कों को सरेंडर करने के लिए बोलें।'

उन्होने कहा कि जैश के आतंकियों ने ही पुलवामा में आतंकी हमला किया था। हमने पुलवामा हमले के 100 घंटे के अंदर घाटी में मौजूद जैश की लीडरशिप को खत्म कर दिया है।

आतंकियो को सरेंडर करने को कहें घर वाले-:

जम्मू-कश्मीर की महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि वह अपने बच्चों को समझाएं और उन्हें सरेंडर करने को कहें। उन्होंने कहा कि सेना के पास सरेंडर पॉलिसी है, अब अगर जो भी सेना के खिलाफ बंदूक उठाएगा वो मारा जाएगा। उन्होंने कहा कि हम नहीं चाहते हैं कि कोई भी नागरिक घायल हुए। सेना के अफसरों ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के पीछे ISI का हाथ था, उनकी मदद से ही जैश ने हमला किया था।

शहीद जवानों का परिवार न समझे खुद को अकेला -:

सीआरपीएफ के आईजी ने कहा, 'शहीद हुए जवानों के परिवार से कहना चाहूंगा कि आप अपने को अकेले न समझें। आपके लिए हर वक्त हम खड़े हैं। देश के विभिन्न हिस्सों में पढ़ने वाले कश्मीरी बच्चों के लिए भी हम हेल्पलाइन चला रहे हैं, ताकि उन्हें अप्रिय स्थिति का सामना न करना पड़े।'

पत्थरबाजों को कड़ी हिदायत-:

केजीएस ढिलन्न ने जम्मू-कश्मीर के पत्थरबाजों से अपील करते हुए कहा कि कोई भी नागरिक मुठभेड़ की जगह पर ना आए, ना ही मुठभेड़ के दौरान और ना ही बाद में। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर ऐसा होता है तो उन्हें भी एक्शन लेना होगा।

पाकिस्तानी सेना का बच्चा है जैश-:

उन्होंने कहा कि जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तानी सेना का बच्चा है, यहां कितने गाजी आए और कितने चले गए। पाकिस्तानी सेना और ISI जैश-ए-मोहम्मद को कंट्रोल कर रही है। पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड कामरान ही था, जिसे मार गिराया गया है।


कमेंट करें