राजनीति

क्या टूट जाएगी AAP? नाराज़ विधायकों को मनाने के लिए बैठक करेंगे केजरीवाल

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1051
| मार्च 18 , 2018 , 08:18 IST

आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल द्वारा पंजाब के पूर्व मंत्री और शिअद नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से माफी को लेकर पार्टी में उठा विवाद बढ़ता ही जा रहा है।

आज दिल्ली में अरविंद केजरीवाल पार्टी के पंजाब विधायकों की बैठक बुलाई है जिसमें वह अपनी बात रखेंगे लेकिन इस बैठक में पंजाब के विधायक और विपक्ष के नेता सुखपाल खैरा ने बैठक में आने से मना कर दिया है। अब पार्टी के सामने ये भी बड़ा संकट पैदा हो गया है कि क्या इस बैठक में पंजाब से आम आदमी पार्टी के सभी विधायक हिस्सा लेंगे।

यह बैठक ऐसे समय में बुलाई गई है जब पंजाब के ज्यादातर‘ आप’ विधायकों ने कल पार्टी से नाता तोड़ने और एक अलग इकाई बनाने के विकल्प पर विचार किया है।

सूत्रों के अनुसार, पंजाब के पार्टी नेताओं को मनाने के लिए मनीष सिसोदिया और संजय सिंह को लगाया गया है। इन्हीं कोशिशों के तहत केजरीवाल के आवास पर रविवार शाम पांच बजे पंजाब के सभी विधायकों की बैठक बुलाई गई है। इस संबंध में एक संदेश शनिवार को पार्टी की पंजाब इकाई के इंचार्ज मनीष सिसोदिया ने सभी विधायकों को जारी कर दिया। लेकिन खैरा खेमे के विधायक कंवर संधू ने दोटूक कहा है कि वे दिल्ली नहीं जा रहे हैं। जिन्हें उनसे बात करनी है, वे चंडीगढ़ आकर करें।

इस बीच शनिवार को केजरीवाल के घर पर मौजूदा हालात को लेकर बैठक हुई। इसमें सिसोदिया के साथ ही पंजाब के तीन पार्टी विधायक प्रो. बलजिंदर कौर, कुलतार सिंह संधवा और अमरजीत सिंह भी शामिल हुए। एक घंटे से अधिक समय तक चली बैठक के बारे किसी नेता ने बाहर आकर कोई जानकारी नहीं दी।

शनिवार को पंजाब से पार्टी के तीन विधायकों ने केजरीवाल से मिलकर अपना असंतोष ज़ाहिर किया है। वहीं अरविंद केजरीवाल के क़रीबी माने जाने वाले पंजाब आम आदमी पार्टी के बड़े नेता जरनैल सिंह ने भी अरविंद केजरीवाल के बयान पर नाराज़गी जताई। उनका कहना है कि अरविंद केजरीवाल को गलत सलाह दी गई है। एसआईटी की रिपोर्ट मजीठिया के ख़िलाफ़ है। पार्टी को विधायकों से बात करनी ही चाहिए।

आपको बता दें कि पंजाब के प्रभारी और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार शाम 5 बजे पंजाब के सभी 20 विधायकों को मीटिंग के दिल्ली बुलाई है।


कमेंट करें