नेशनल

दिल्ली: मोदी नई मेट्रो लाइन का करेंगे उद्धघाटन, केजरीवाल को नहीं मिला बुलावा

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
595
| दिसंबर 23 , 2017 , 17:45 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को दिल्ली मेट्रो की नवनिर्मित मेजेंटा लाइन का उद्धघाटन करेंगे। यह लाइन नोएडा के बॉटनिकल गार्डन को दक्षिणी दिल्ली के कालकाजी मंदिर से जोड़ेगी। सरकार ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी। मोदी, बॉटनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन पर उद्धघाटन के मौके पर एक आमसभा को भी संबोधित करेंगे।

मेट्रो के बढ़े किराए पर केंद्र और दिल्ली मेट्रो के साथ तकरार के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कार्यालय ने कहा है कि उसे उद्घाटन समारोह का निमंत्रण प्राप्त नहीं हुआ है।

दिल्ली सरकार के एक प्रवक्ता ने आईएएनएस को बताया, "हमें कार्यक्रम की कोई आधिकारिक सूचना नहीं दी गई है। हमारी प्रथम प्राथमिकता यात्रियों के लिए सुरक्षित मेट्रो और किराए की उचित दर है। और बात अगर उद्धघाटन की है तो हमें कोई निमंत्रण नहीं मिला है। यह सवाल डीएमआरसी और शहरी विकास मंत्रालय से पूछे जाने चाहिए।"

किराया वृद्धि प्रस्ताव समिति के हितधारकों में से एक दिल्ली सरकार ने किराया बढ़ाने का विरोध किया था और मेट्रो संचालन में आने वाली लागत का आधा हिस्सा भुगतान करने की पेशकश की थी।

Oopoo

एक बयान में कहा गया है, "2017 में प्रधानमंत्री द्वारा मेट्रो लाइन का यह तीसरा उद्धघाटन है। उन्होंने इस साल जून में कोच्चि मेट्रो और नवंबर में हैदराबाद मेट्रो को राष्ट्र को समर्पित किया था। दोनों मौके पर प्रधानमंत्री ने आमसभा को संबोधित करने वाले स्थान पर पहुंचने से पहले नई लाइन पर एक कम दूरी की यात्रा की थी।"

बॉटनिकल गार्डन से कालकाजी खंड की लाइन पर नौ स्टेशन हैं। कालका मंदिर को छोड़ सभी स्टेशन एलीवेटेड हैं।

कालकाजी से बॉटनिकल गार्डन आने वाले यात्री अपनी यात्रा के मौजूदा 52 मिनट के समय को अब मात्र 19 मिनट में पूरा कर सकते हैं। दरअसल यात्रियों को बॉटनिकल गार्डन जाने के लिए पहले मंडी हाउस से ब्लू लाइन पकड़नी पड़ती थी, लेकिन अब मेजेंटा लाइन का इस्तेमाल कर वे कम समय में अपने गंतव्य पर पहुंच सकते हैं।

इस लाइन पर निर्माण कार्य पूरा हो जाने के बाद यह बॉटनिकल गार्डन से जनकपुरी वेस्ट तक चलेगी।

यह दिल्ली मेट्रो नेटवर्क पर पहली लाइन होगी, जहां चालक-रहित गाड़ियां एक उन्नत स्वचालन के साथ पेश की जाएंगी। इससे स्टेशनों पर पहुंचने वाली ट्रेनों की आवृत्ति 90 सेकंड तक कम हो जाएगी।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें