खेल

बॉल टेंपरिंग मामला: ऑस्ट्रेलियाई कोच डेरेन लेहमन छोड़ेंगे पद, लैंगर और पोंटिंग रेस में

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1104
| मार्च 27 , 2018 , 14:39 IST

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुक्रवार से शुरू होने वाले चौथे टेस्ट से पहले डेरेन लेहमैन ऑस्ट्रेलिया के कोच के रूप में पद छोड़ेंगे।खबर ये है कि बॉल टेंपरिंग मामले में कोच डैरेन लेहमैन का भी हाथ था। आपको बता दें कि दूसरे टेस्ट मैच में साउथ अफ्रीका  के खिलाफ बॉल से छेड़छाड़ के मामले में ब्रेनक्राफ्ट, वार्नर और कप्तान स्मिथ को दोषी पाया गया था जिसके चलते कप्तान और वार्नर पर एक मैच का प्रतिबन्ध और मैच का 100 फीसदी जुर्माना लगा दिया गया था। लेकिन इन सबके बावजूद अभी भी जांच जारी है।

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने इन सभी खिलाड़ियों पर कड़ा प्रतिबंध लगाने निर्देश दिया है। अब देखना ये होगा कि जांच एजेंसियों की जांच के बाद क्या रिपोर्ट सामने आती है। फ़िलहाल तो स्मिथ से आईपीएल की भी कप्तानी छीन ली गई है।

Fffffffffffffffffff

जब ये सारी चीजें सामने आई तो ये भी खबर आ रही है कि इन सभी गतिविधियों में ऑस्ट्रेलिया के कोच का भी हाथ था इसीलिए उनको कोच पद से इस्तीफा देना पड़ा।

डेरेन लेहमन 2013 में टीम के कोच बने थे, जब मिकी ऑर्थर को बर्खास्त किया गया था। जस्टिन लैंगर को उनका स्थान लेने के लिए मजबूत दावेदार माना जा रहा है, हालांकि रिकी पोंटिंग का नाम भी चर्चा में है।

कैसे होती है बॉल टेंपरिंग?

क्रिकेट के खेल में इस समय बॉल टेंपरिंग का मामला सुर्खियों में है। साउथ अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों ने जिस तरह से गेंद से छेड़छाड़ किया वह बहुत ही शर्मनाक है जिसकी कड़ी आलोचना हो रही है।

बॉल टेंपरिंग की बात करें तो इसकी शुरुआत 70 के दशक से हुई थी और तबसे लेकर आजतक इस पर शिकायत मिलती आ रही हैं।

बॉल टेंपरिंग कैसे होती है इसपर बात करे तो बॉल की एक सतह को किसी खुरदुरी चीज से रगड़ दिया जाता है इससे गेंद अधिक स्विंग लेने लगती है और बल्लेबाज को खेलने में परेशानी होने लगती है।


कमेंट करें