राजनीति

अयोध्या विवाद: अध्यादेश नहीं लाने के दिखे संकेत, शाह ने कहा- कोर्ट के आदेश का करेंगे इंतजार

राजू झा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1610
| नवंबर 26 , 2018 , 08:30 IST

अयोध्या में राम मंदिर पर राजनीति शियासत और धर्म सभाओं जो कम होने की नाम ही नही ले रही है। वही अयोध्या मामले में हिन्दू संगठनों, संतो द्वारा धर्म सभा कर रही मोदी सरकार पर अध्यादेश लाने का दबाव बनाया गया है। हालाकि ऐसा संकेत मिल पा रहा हैं। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि सरकार अगली साल जनवरी में सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई का इंतजार करेगी।

बता दें कि शाह ने रविवार को कहा कि यह मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है और इसके सुनवाई तक हमें इंतजार करना चाहिए। बीजेपी अध्यक्ष का यह बयाना शायद इसी ओर इशारा कर रहा है कि सरकार ने अबतक अध्यादेश की मदद से अयोध्या में विवादित जगह पर राम मंदिर निर्माण का फैसला नहीं किया है।

वही एक निजी अखबार के माध्यम से शाह ने यह भी दावा किया है कि बीजेपी राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ तीनों में अपनी सत्ता बचा लेगी। शाह ने बीजेपी सरकारों के खिलाफ पैदा हो रहे असंतोष के दावों को भी खारिज किया है। उन्होंने कहा कि इन राज्यों के चुनाव परिणाम पीएम मोदी की छवि को बूस्ट करेंगे और 2019 का चुनाव भी हम जीतेंगे।

अयोध्या मामले में शाह ने उम्मीद जताई है कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला मंदिर के पक्ष में ही आएगा। उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि यह मामला कोर्ट में 9 सालों से लंबित है इसके बावजूद कांग्रेस ने इसकी सुनवाई 2019 के चुनावों तक टालने की मांग की थी। इससे पहले पीएम मोदी ने भी यही आरोप लगाते हुए कहा था कि कांग्रेस जजों को महाभियोग से डराती है।


कमेंट करें