नेशनल

डरे हैं मुसलमान, 25 नवंबर से पहले नहीं बढ़ी सुरक्षा, तो छोड़ देंगे अयोध्या- इकबाल अंसारी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1458
| नवंबर 15 , 2018 , 13:45 IST

आयोध्या में 25 नवंबर को शिवसेना और विश्व हिंदू परिषद की होने वाली धर्मसभा से पहले अयोध्या में बाबरी पक्षकार इकबाल अंसारी असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। इकबाल अंसारी ने कहा है कि अगर अयोध्या में भीड़ बढ़ रही है तो मुसलमानों की सुरक्षा बढ़ाई जाए। उन्होंने कहा कि सुरक्षा नहीं बढ़ाई गई तो 25 तारीख से पहले अयोध्या छोड़ देंगे।

इकबाल अंसारी का कहना है कि 1992 में अयोध्या में भीड़ हुई थी। तब कई मस्जिदें तोड़ दी गईं। मुस्लिमों के मकान जला दिए गए। अयोध्या में साल 1992 की तरह का एक बार फिर से माहौल बनाया जा रहा है। संघ और वीएचपी ने ऐसे ही भीड़ साल 1992 में इकट्ठा की थी। उस समय कोई भी मुस्लिम मस्जिद बचाने नहीं गया था। इसके बावजूद मुस्लिम समाज के घर और दुकान लूटे गए थे।

इकबाल अंसारी ने डर व्यक्त करते हुए कहा है कि विहिप और शिवसेना के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में अयोध्या में एकत्रित हो रहे हैं, जिससे यहां मुस्लिम समुदाय बहुत डरा हुआ महसूस कर रहा है। उन्होंने कहा कि हम सरकार से मांग करते हैं कि विहिप और शिवसेना कार्यकर्ताओं के उपद्रव से मुसलमानों की जान और संपत्तियों को बचाने के लिए विशेष बल तैनात किये जाएं।

अयोध्या के पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार सिंह ने उन्हें पूरी तरह सुरक्षा और जान-माल की हिफाजत का आश्वासन दिया।


कमेंट करें