इंटरनेशनल

PAK सरकार के खिलाफ गिलगिट-बाल्टिस्तान में जोरदार प्रदर्शन, टैक्स थोपने से लोगों में गुस्सा

| 0
302
| दिसंबर 24 , 2017 , 15:13 IST

पाकिस्तान अधिकृत गिलगित-बल्टिस्तान में जबरन कर लगाए जाने के विरोध में लोग जोरदार प्रदर्शन कर रहे है। रविवार को लोगों ने जमकर सरकार का विरोध किया और सरकार विरोधी नारें लगाए। अंजीमन-ए-तजनर और आवामी ऐक्शन कमिटी के आह्वान के बाद पूरे गिलगित-बाल्टिस्तान इस्लामाबाद द्वारा टैक्स के लागू किए जाने के खिलाफ क्रोधित हजारों लोग सड़क पर हैं।

प्रदर्शनकारी सरकार से इस क्षेत्र में लागू कर को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। स्थानीय व्यापारियों और निवासियों ने पाकिस्तान सरकार के बल प्रयोग के खिलाफ विरोधस्वरूप दुकानें बंद कर दी हैं।दुकानों और बाजारों के बंद रहने से स्थानीय अर्थव्यवस्था को झटका लगा है।

गिलगित-बाल्टिस्तान की विधानसभा में विपक्ष के नेता नवाज खान नाजी ने कहा, 'हमारे अकाउंट से हर महीने 10 से 12 हजार टैक्स कटता है, ये टैक्स किसे मिलता है? मैं सरकार से इस टैक्स के बारे में नहीं पूछ सकता। हम जो टैक्स दे रहे हैं, उसके एवज में कोई जवाबदेही नहीं है। इसलिए यह असंवैधानिक और अवैध है।'

बता दें कि गिलगित-बाल्टिस्तान के कारोबारियों का मानना है कि पाकिस्तान अपने कब्जे वाले इस इलाके में अधिक टैक्स वसूल रहा है, जबकि यह इलाका आर्थिक दृष्टि से बेहद कमजोर है और कारोबारियों की आय भी कम है।

आपको बता दें कि गिलगित-बाल्टिस्तान जम्मू-कश्मीर का हिस्सा है और 1947 से ही पाकिस्तान के कब्जे में है। हालांकि, पाकिस्तान पर लगातार इस इलाके को लेकर उपेक्षित रवैया अपनाने और यहां रह रहे लोगों की बुनियादी जरूरतों तक को पूरा न करने का आरोप लगता रहता है।


author

कमेंट करें