नेशनल

जीसी त्रिपाठी को नहीं मिलेगा दूसरा कार्यकाल, नए वाइस चांसलर की तलाश में जुटा BHU

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
972
| सितंबर 30 , 2017 , 14:34 IST

बनारस हिंदू विश्विविद्यालय (बीएचयू) में अब नए वाइस चांसलर की तलाश शुरू हो गयी है। शुक्रवार को विश्वविद्यालय ने अक्टूबर महीने के अंदर-अदंर नए उपकुलपति का आवेदन देने के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है। बीएचयू एक्ट के अनुसार जब तक किसी नए उपकुलपति की नियुक्ति नहीं हो जाती तब तक उपकुलपति का कार्यभार अवलंबी उपकुलपति द्वारा संभाला जाएगा। बीएचयू के विवादित वीसी गिरीश चंद्र त्रिपाठी का कार्यकाल दो महीने बाद 27 नवंबर को खत्म हो रहा है। ऐसे में मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एचआरडी) ने जीसी त्रिपाठी का कार्यकाल न बढ़ाते हुए नए वीसी के लिए विज्ञापन के आदेश दिए हैं।

इतना ही नहीं मंत्रालय विश्वविद्यालय में चल रही परिस्थितियों को भी ठीक करना चाहता है। पिछले दिनों छात्रा के साथ छेड़खानी के बाद उपजे विरोध-प्रदर्शन के दौरान वाइस चांसलर जीसी त्रिपाठी सुर्खियों में रहे। छात्राओं की वीसी की ओर से छेड़खानी पर एक्शन और सुरक्षा मुहैया कराए जाने की मांग थी लेकिन वीसी की धरनास्थल पर न आने की जिद के चलते प्रदर्शन जारी रहा। इसके बाद छात्राओं पर लाठीचार्ज से मामला और बिगड़ गया और हर ओर वीसी की आलोचना होने लगी।

Master

नए वीसी की नियुक्ति के लिए जारी किये गए इस इस विज्ञापन के अनुसार नए उपकुलपति में अच्छी लीडरशिप, गुण, प्रशासनिक क्षमताएं और अनुसंधान प्रत्यय पत्र होना अनिवार्य है। आवेदनकर्ता की उम्र 67 वर्ष से ज्यादा नहीं होनी चाहिए और उसका अपने पिछले 10 साल के प्रोफेसर के कार्यकाल में बेहतरीन शैक्षणिक रिकोर्ड होना चाहिए।

इतना ही नहीं इन आवेदनकर्ताओं की जांच-परख के लिए एचआरडी मंत्रालय एक सिलेक्शन कमेटी का गठन करने जा रहा है। यह सिलेक्शन कमेटी आवेदनकर्ताओं में से तीन टॉप के लोगों को इस पद के लिए चुनेगी जिसके बाद अन्य प्रक्रियाओं के बाद किसी एक आवेदनकर्ता को उपकुलपति नियुक्त किया जाएगा।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें