नेशनल

गोहत्या रोकने पर महिला इंजीनियर की हुई बुरी तरह पिटाई, भीड़ ने लगाए विवादित नारे

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
825
| अक्टूबर 16 , 2017 , 11:04 IST

बेंगलुरु की एक महिला इंजीनियर ने अवैध गोहत्‍या की शिकायत करने पर माफिया द्वारा मारपीट का आरोप लगाया है। देश में लोगों के मन से कानून का डर किस तरह निकल चुका है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पुलिस की मौजूदगी में भीड़ ने एक महिला इंजीनियर पर हमला कर दिया और उसे बुरी तरह से मारा-पीटा। महिला का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने गोहत्या के विरोध में पुलिस से इसकी शिकायत की थी। घटना देश के टॉप मेट्रोपोलीटिन शहर माने जाने वाले बेंगलुरु की है।

जहां शहर के बाहरी इलाके तलघट्टापुरा में अवैध गोहत्या की जा रही थी। इसकी सूचना नंदिनी नामक महिला ने पुलिस को दी। इस पर पुलिस ने कारवाई का आश्वासन देते हुए दो पुलिसकर्मियों को नंदिनी के साथ मौके पर भेजा। लेकिन वहां मौजूद भीड़ ने नंदिनी पर हमला बोल दिया। इस दौरान नंदिनी को बुरी तरह से मारा-पिटा गया और उसकी कार को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया।

पीड़िता नंदिनी का कहना है कि तलघट्टापुरा इलाके में गोहत्या के लिए 14 गाये बंधी थी। जब इसकी शिकायत पुलिस से की गई तो उन्होने कारवाई का आश्वासन दिया, लेकिन इलाके में पुलिस टीम नहीं भेजी। ऐसे में नंदिनी को शक है कि पुलिसकर्मी भी आरोपियों के साथ मिले हुए हैं। इतना ही नहीं भीड़ ने उन पर हमला कर पाकिस्तान के पक्ष में नारे भी लगाए।।

वहीं इस घटना के बाद कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने मौजूदा सरकार पर निशाना साधा और इस घटना को कानून व्यवस्था की नाकामी बताया। येदियुरप्पा ने ट्वीट कर कहा कि “अवैध गोहत्या का खुलासा करने वाली महिला पर भीड़ के हमले की निंदा करता हूं। यह हिंसक हमला सिद्धारमैया की सरकार में गिरती कानून व्यवस्था का सबूत है।”


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें