दीपावली स्पेशल 2018

भाई दूज विशेष: भाई की लंबी उम्र के लिए बहनें रखती हैं व्रत, जानिए पूजा की विधि

शुभा सचान , न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1326
| नवंबर 9 , 2018 , 11:37 IST

आज देशभर में भाई दूज का त्योहार मनाया जा रहा है। हिन्‍दू धर्म में भैया दूज का विशेष महत्‍व है। कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को यह त्योहार मनाया जाता है। इस दिन बहनें व्रत, पूजा, कथा आदि कर भाई की लंबी उम्र की कामना करती हैं और उनके माथे पर टिका लगाती हैं। इसके बदले भाई भी उनकी रक्षा का संकल्प लेते हुए उपहार देते हैं। यह त्योहार रक्षाबंधन की तरह ही महत्व रखता है।

Download (1)

बहन के घऱ भोजन का विशेष महत्व

इस दिन परंपरा है कि बहन अपने भाइयों को चावल खिलाएं। बहन के घर पर भाई को भोजन कराने का विशेष महत्व माना जाता है। यदि अपनी सगी बहन ना भी हो तो किसी भी बहन के साथ इस परंपरा का निर्वहन कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: बहन-भाई के अटूट रिश्ते का प्रतीक है भाई दूज, जानिए क्यों और कैसे मनाते हैं यह त्योहार

भाई दूज का मुहूर्त

इसबार भाईदूज में तीन शुभ मुहूर्त हैं।

सुबह- 9:20 से 10:35 तक

दोपहर-1:20 से 3:15 तक

शाम-4:25 से 5:35 और 7:20 से रात 8:40 तक

भैया दूज के दिन पूजा करने की विधि

- पूजा करने से पहले बहन आटे से चौक बनाती है। फिर इस पर भाई को विराजमान कर के उसकी पूजा करती है।

- भाई की हथेली पर चावल का घोल लगा कर पान, सुपारी, पुष्प इत्यादि रखकर उसके हाथ पर जल गिराती है।

- अब बहन भाई की आरती उतार कर उसके हाथों में कलावा बांधती हैं।

- फिर बहन भाई को मिठाई खिलाएगी। भाई यदि बड़ा है तो बहन उसका पैर छूकर आशीर्वाद लेगी और यदि भाई छोटा है तो बहन का आशीर्वाद लेगा।

- दक्षिण दिशा की तरफ चेहरा करके बहन दीया जलाएं तो ये भाइयों के लिए शुभ होता है। वहीं भाई की लंबी उम्र के लिये भगवान से की गयी प्रार्थना को पूरी होने के लिये आकाश में उड़ती हुई पतंग को देखना बहुत भाग्यशाली माना जाता है।​


कमेंट करें