राजनीति

राष्ट्रीय अधिवेशन में शाह: BJP चाहती है राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर हो,रोड़े अटका रही कांग्रेस

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1581
| जनवरी 11 , 2019 , 18:20 IST

देश की राजधानी नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी  की राष्ट्रीय परिषद का दो दिवसीय सम्मेलन शुक्रवार को आरंभ हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह और दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी समेत भाजपा के पदाधिकारियों ने दीप जलाकर सम्मेलन का शुभारंभ किया।

बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों और पार्टी के कार्यकर्ताओं की ओर से अमित शाह ने प्रधानमंत्री मोदी को अगड़ी जाति के गरीबों को 10 फीसदी आरक्षण प्रदान करने और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) में राहत प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया और उनका विशेष आभार जताया। रामलीला मैदान में आयोजित इस सम्मेलन में भाजपा के 12,000 से अधिक सदस्य हिस्सा ले रहे हैं।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि देश के हर कोने में भाजपा को पहुंचाने के लिए अटल जी और आडवाणी जी की जोड़ी ने जो संघर्ष किया, ऐसा संघर्ष शायद ही कभी हुआ हो। शाह ने भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा, 2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है। दो विचारधाराएं आमने-सामने खड़ी हैं। 2019 का युद्ध (चुनाव) सदियों तक असर छोड़ने वाला है और इसलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत अहम है।

कांग्रेस राम मंदिर निर्माण में रोड़े अटका रही है

अमित शाह ने कहा कि बीजेपी चाहती है जल्द से जल्द उसी स्थान पर भव्य राम मंदिर का निर्माण हो और इसमें कोई दुविधा नहीं हैं। हम प्रयास कर रहे है कि सुप्रीम कोर्ट में चल रहे केस की जल्द से जल्द सुनवाई हो लेकिन कांग्रेस इसमें भी रोड़े अटकाने का काम कर रही है। शाह ने आगे कहा, 'सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा है। हम प्रयास कर रहे हैं कि जल्द से जल्द केस का निपटारा हो। हमने कहा है कि संवैधानिक तरीके से मामले का निपटारा हो लेकिन कांग्रेस अड़ंगा डालने का काम कर रही है।' उन्होंने कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ता आश्वस्त रहें, हम राम मंदिर बनाने के लिए कटिबद्ध हैं।

5 साल 50 से ज्यादा ऐतिहासिक फैसले

शाह ने 5 साल में 50 से ज्यादा ऐतिहासिक फैसले लिए गए। शाह ने कहा कि साढ़े चार वर्षों में 9 करोड़ शौचालय बनाकर माताओं और बहनों को शर्म से मुक्त करके सम्मान के साथ जीने का अधिकार बीजेपी सरकार ने दिया है। 2014 तक 60 करोड़ घर ऐसे थे जिनके पास अपना बैंक अकाउंट नहीं था, लेकिन मोदी सरकार ने एक झटके में ही इन सभी का अकाउंट बैंक में खोल दिया।

एक हफ्ते में लिए दो बड़े फैसले

अमित शाह ने कहा कि पिछले एक हफ्ते में ही पीएम मोदी की सरकार ने दो बड़े फैसले लिए हैं। पहला फैसला- सामान्य वर्ग के लोगों को शिक्षा और रोजगार में 10% आरक्षण देने का है, जिसे न सिर्फ कैबिनेट ने मंजूर किया बल्कि संसद के दोनों सदनों में पास भी करा लिया गया। 40 लाख तक टर्नओवर वाले कारोबारियों को जीएसटी रजिस्ट्रेशन और ट्रैक्स से छूट दी जाएगी। उन्होंने कहा कि कंपोजिट प्लान के तहत 1.5 करोड़ रुपये तक टर्नओवर वाले कारोबारी को केवल 1% टैक्स देना होगा।


कमेंट करें