नेशनल

मुंबई ब्रिज हादसा: BMC और रेलवे में शुरू हुआ ब्लेमगेम, एक-दूसरे पर लगा रहे हैं आरोप

विवेक यादव | 0
1589
| मार्च 15 , 2019 , 12:38 IST

दक्षिणी मुंबई में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस के पास बृहस्पतिवार शाम पैदल पार पुल का बड़ा हिस्सा ढह जाने से पांच लोगों की मौत हो गई और 29 घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। प्रसिद्ध सीएसएमटी स्टेशन के साथ टाइम्स ऑफ इंडिया इमारत के पास वाले इलाके को जोड़ने वाले इस पुल को आम तौर पर 'कसाब पुल' के नाम से जाना जाता है क्योंकि 26/11 मुंबई आतंकवादी हमले के दौरान आतंकवादी इसी पुल से गुजरे थे। अब इस ब्रिज को लेकर रेलवे और बीएमसी के बीच ब्लेमगेम शुरू हो गया है।

पुल हादसे के बाद से ही दोनों (बीएमसी और रेलवे) में से कोई इस हादसे की जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार नहीं है। दोनों एक दूसरे पर ब्लेम कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि इस ब्रिज के रखरखाव का जिम्मा बीएमसी के पास था, जबकि इस ब्रिज को रेलवे ने बनवाया था।

पुलिस द्वारा जारी की गई लिस्ट के अनुसार हादसे में अपूर्वा प्रभु, रंजना तांबे, जाहिद शिराज खान, मोहन भक्ति शिंदे और तपेंद्र सिंह नाक के छह लोगों की मौत हुई है। वहीं महाराष्ट्र सरकार ने इसकी उच्च स्तरीय जांच करने के आदेश दे दिए हैं। मामले में आजाद मैदान पुलिस स्टेशन में आईपीसी धारा 304 ए के तहत मध्य रेलवे और बीएमसी के संबंधित अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है।

इस हादसे पर सीएम देवेंद्र फडणवीस ने मुआवजे का ऐलान किया है। मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए का मुआवजा और घायलों को 50 हजार रुपए के मुआवजे का ऐलान किया है। वहीं सीएम ने इस हादसे की उच्चस्तरीय जांच के भी आदेश दे दिए हैं। सीएम ने इस घटना को गंभीर बताते हुए सख्ती से कार्रवाई करने का भरोसा दिया हैय़

बताते चलें कि हादसा गुरुवार शाम करीब 7:30 बजे हुआ, जिस वक्त यह घटना हुई वहां पुल के नीचे बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। प्लेटफॉर्म 1 बीटी लेन के पास ब्रिज गिरा है। मुंबई पुलिस के मुताबिक, गुरुवार शाम मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस के प्लैटफॉर्म नंबर 1 पर बना ब्रिज अचानक गिर गया, जिसके कारण कई लोग इसके चपेट में आ गए। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हादसे के बाद ब्रिज के मलबे में कई लोग दब गए और वहां मोजूद कुछ वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए।

इस घटना के बाद मौके पर एऩडीआरएफ, रेलवे और मुंबई पुलिस की टीम मौके पर पहुंच कर तत्काल घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। जहां इलाज शुरू होने के बाद 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 36 लोगों से अधिक घायलों का इलाज चल रहा है।


कमेंट करें