नेशनल

इथियोपिया हादसे के बाद बोइंग 737 मैक्स-8 पर भारत ने भी लगाया बैन

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1668
| मार्च 13 , 2019 , 09:47 IST

इथियोपिया एयरलाइन्स के एक विमान के उड़ान भरने के कुछ ही मिनट बाद दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद चीन, इंडोनेशिया, इथियोपिया,सिंगापुर के बाद अब भारत ने भी बोइंग 737 मैक्स 8 के संचालन को अस्थाई रूप से रोक दिया है। विमान हादसे में 157 लोगों की मौत हो गई थी।

मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन ने कहा है कि जब तक इस विमान की सुरक्षा संबंधी जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक इसकी उड़ान पर रोक कायम रहेगी। यात्रियों की सुरक्षा सर्वोपरि है। DGCA ने कहा है कि वे संबंधित एयरलाइंस और एजेंसियों से लगातार बात कर रहे हैं। उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने सभी एयरलाइंसों की आपात बैठक बुलाई है। इसमें यात्रियों को परेशानी से बचाने के लिए चर्चा होगी।

बता दें इससे पहले ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, आस्ट्रेलिया, सिंगापुर, मलेशिया, आयरलैंड, आइसलैंड, ओमान, चीन, इंडोनेशिया, दक्षिण कोरिया और अर्जेंटीना जैसे देशों में इन विमानों पर रोक लगा दी गई है। इन विमानों से खौफ इस कदर है कि UK ने तो अपने एयरस्पेस में ही इन विमानों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है।

आपको बता दें कि इथियोपिया एयरलाइन्स का विमान रविवार को अदिस अबाबा से नैरोबी के लिए उड़ान भरते ही एक खेत में गिर गया था। विमानन नियामक ने एक बयान में कहा, "बोइंग 737 मैक्स विमानों की पिछले छह महीनों में दो दुर्घटनाएं हो चुकी है। इस हादसे में 157 लोगों की मौत हो गई थी।

भारत में भी पहले DGCA ने जारी की थी गाइडलाइन

भारत में भी इस विमान को लेकर ऐहतियात बरती जा रही है। डीजीसीए ने बोइंग 737 मैक्स-8 विमान को लेकर नई गाइड लाइन जारी की थी। इसमें साफ कह दिया था कि अब बोइंग 737 मैक्स-8 विमान उड़ाने वाल पायलट को कम से कम 1000 घंटे का अनुभव होना जरूरी है। देश में इस कंपनी का विमान सिर्फ स्पाइस जेट और जेट एयरवेज ही इस्तेमाल करती हैं। स्पाइस जेट के बेड़े में बोइंग 737 मैक्स-8 के कुल आठ विमान है। अब इसकी उड़ान पर रोक लगा दी गई है।


कमेंट करें