मनोरंजन

धर्मग्रंथ बेअदबी मामला: 2 घंटे की पूछताछ में SIT ने अक्षय कुमार से पूछे 42 सवाल

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1650
| नवंबर 21 , 2018 , 13:49 IST

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार की परेशानियां इस वक्त बढ़ते जा रही है। गुरुग्रंथ साहिब जी बेअदबी मामले में अक्षय कुमार बुधवार को चंडीगढ़ में एसआईटी के समक्ष पेश हुए। उन पर पंजाब के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सुखबीर सिंह बादल और गुरमीत राम रहीम की मुलाकात के लिए प्रबंध करने का आरोप है।

खबरों की माने तो करीब दो घंटे तक चली इस पूछताछ में SIT ने अक्षय से 42 सवाल पूछे। अक्षय से राम रहीम और सुखबीर बादल संग बैठक से लेकर सिखों के धर्मग्रंथ के अपमान समेत कई सारे सवाल पूछे गए। हालांकि अक्षय ने एसआईटी के सामने सभी आरोपों को खारिज कर दिया। कोटापुरा थाने में दर्ज मामले के संबंध में पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल, शिरोमणि अकाली दल सुप्रीमो सुखबीर बादल और अक्षय कुमार को समन जारी किए गए थे।

इस मामले में एक्टर अक्षय कुमार पर जस्टिस रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट में संगीन आरोप लगे थे। आरोपों के मुताबिक अक्षय ने 20 सितंबर 2015 को अपने फ्लैट पर तत्कालीन डेप्युटी सीएम सुखबीर सिंह बादल और डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम के बीच बैठक करवाई थी। इसी मीटिंग के दौरान ही डेरा प्रमुख की फिल्म को पंजाब में रिलीज करने पर मुहर लगी थी।

SIT के सवालों को नकारते हुए अक्षय ने कहा कि उनका नाम बेवजह इस मामले में घसीटा जा रहा है। एसआईटी से अभिनेता ने कहा कि, 'मेरे ऊपर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं। मुझे पता नहीं मेरा नाम क्यों घसीटा जा रहा है। मैंने सिखों के धर्मग्रंथ का अपमान नहीं किया है।' अक्षय को एसआईटी ने अमृतसर की बजाय चंडीगढ़ में पेश होने का विकल्प दिया था। पंजाब पुलिस एसआईटी ने इससे पूर्व अक्षय को 21 नवंबर को अमृतसर सर्किट हाउस में बुलाया था। एसआईटी के सदस्य और पुलिस महानिरीक्षक कुंवर विजय प्रताप सिंह ने मंगलवार को बताया, 'हमने अक्षय को यहां चंडीगढ़ में पेश होने की छूट दी है।'

गौरतलब हो कि गुरमीत इस समय बलात्कार के दो मामलों में 20 साल की जेल की सजा काट रहा है। अक्षय अपने ऊपर लगे आरोपों पर पहले भी इनकार करते रहे हैं। हाल ही में उन्होंने अपनी सफाई में कहा था कि वो अपने पूरे जीवन में कभी भी राम रहीम से नहीं मिले हैं।


कमेंट करें