राजनीति

TDP के दोनों मंत्रियों ने पीएम मोदी को सौंपा इस्तीफा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
954
| मार्च 8 , 2018 , 19:33 IST

टीडीपी के नेता और केन्द्र सरकार के मंत्री अशोक गजपति राजू और वाईएस चौधरी ने पीएम मोदी से मुलाकात करने के बाद उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा। बता दें कि टीडीपी पार्टी के तरफ से बजट के बाद से ही लगातार आन्ध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की जा रही थी।

मोदी सरकार में तेदेपा से दो मंत्री- नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री वाईएस चौधरी हैं।

एनडीए से अलग होने पर अड़े आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार शाम को बात की थी। इस बातचीत के बाद एनडीए सरकार में टीडीपी के कोटे से बने दोनों मंत्री अशोक गजपति राजू और वाई एस चौधरी शाम 6 बजे प्रधानमंत्री से मुलाकात करने 7 लोक कल्याण मार्ग पहुंचे थे लेकिन मुलाकात के कुछ ही मिनटों बाद दोनों मंत्रियों के इस्तीफे की खबर आ गई।

इधर पीएम मोदी से बात के फौरन बाद चंद्रबाबू नायडू ने एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। माना जा रहा कि 2019 से ठीक पहले अगर एनडीए में बिखराव हुआ तो इससे न सिर्फ पीएम मोदी की साख पर बट्टा लगेगा, बल्कि चुनाव में भी इसका असर देखने को मिल सकता है।

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग पर बुधवार रात को टीडीपी प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने इन मंत्रियों के इस्तीफे का ऐलान किया था। हालांकि उन्होंने एनडीए का हिस्सा बने रहने की बात कही थी। मंत्रियों ने मोदी सरकार पर आंध्र की अनदेखी करने का आरोप लगाया गया था।

उधर, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के निर्देश के बाद आंध्र प्रदेश में टीडीपी की अगुवाई की सरकार में शामिल बीजेपी के दो मंत्रियों ने भी इस्तीफे दे दिए। बीजेपी ने कहा कि मोदी सरकार ने आंध्र प्रदेश के लिए दस साल का काम साढ़े तीन साल में कर दिया।

इसे भी पढ़ें-: सिंगापुर में फूटा राहुल गांधी का गुस्सा, कहा-BJP केवल ध्रुवीकरण की राजनीति करती है

इस बीच कंग्रेस ने भी टीडीपी पर डोरे डालने शुरू कर दिए। पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने पीएम मोदी की इस बात पर आलोचना की कि, उन्होंने नायडू से फोन पर बात नहीं की। चर्चा है कि विपक्षी एकता के लिए सोनिया गांधी के डिनर पर टीडीपी को बुलाया जा सकता है। हालांकि कंग्रेस और टीडीपी दोनों ने इससे इंकार किया है।

क्या है टीडीपी की मांग-:

- चंद्रबाबू नायडू की मांग है कि केंद्र पोलावरम परियोजना के लिए 58,000 करोड़ रुपये को तत्काल मंजूरी दे।

- उन्होंने मोदी से नए राज्य की राजधानी अमरावती के विकास के लिए केंद्रीय बजट में पर्याप्त राशि सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

- वह यह भी चाहते हैं कि मोदी राज्य विधानसभा की सीटें 175 से बढ़ाकर 225 करने के लिए तत्काल कदम उठाएं, जिसकी प्रतिबद्धता पुनर्गठन अधिनियम में की गई है।

- नायडु का कहना है कि राज्य के विभाजन के कारण आंध्र प्रदेश वित्तीय समस्याओं का सामना कर रहा है. उन्होंने कहा कि अधिनियम के तहत की गई प्रतिबद्धताओं को लागू करने में देरी से समस्याएं और बढ़ेंगी।


कमेंट करें