नेशनल

UNSC में मसूद पर चीन के रवैये के बाद सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुआ #BoycottChineseProducts

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1666
| मार्च 14 , 2019 , 11:38 IST

जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकी घोषित करने पर एक बार फिर चीन ने रोड़ा अटका दिया है। चीन के इस रवैये के बाद देश के लोगों का गुस्सा भी सोशल मीडिया पर देखने को मिल रहा है। बुधवार रात को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में हुई वोटिंग में चीन ने वीटो का इस्तेमाल करते हुए आतंकी मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित करने के फैसले पर रोड़ा लगा दिया। इसके कुछ देर बाद से ही ट्विटर पर चीन के खिलाफ संदेशों की बाढ़ आ गई। फिलहाल #BoycottChineseProducts, #BoycottChina ट्विटर पर दूसरे नंबर पर ट्रेंड कर रहा है।

चीन के इस कदम के बाद से ही लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और लोगों ने सोशल मीडिया पर चीन को धोना शुरू कर दिया। सोशल मीडिया पर लोगों ने अपील की कि जो चीन के प्रॉडक्ट्स हैं उसे बायकॉट किया जाए। फिलहाल ट्विटर पर #BoycottChineseProducts दूसरे नंबर पर ट्रेंड कर रहा है। यही नहीं #ChinaSupportsTerrorism के साथ भी लोग चीन के खिलाफ ट्वीट कर रहे हैं।

आपको बता दें कि यह कोई पहला मौका नहीं था जब चीन ने अपना असली रंग दिखाया हो। इससे पहले भी चीन 4 बार आतंकी मसूद की ढाल बन कर खड़ा रहा है। इससे पहले 2017 में भी चीन ने अड़ंगा लगाया था। चीन ने मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के प्रस्ताव पर वीटो लगा दिया। इसके साथ ही ये प्रस्ताव रद्द हो गया है। चीन की इस हरकत के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि जब तक आतंकियों के खिलाफ पाकिस्तान कार्रवाई नहीं करता है, तब तक कोई बातचीत नहीं होगी।

जहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 अलकायदा प्रतिबंध समिति के तहत प्रतिबंधित करने का प्रस्ताव फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका की ओर से 27 फरवरी को रखा गया था। 2017 में भी चीन ने अड़ंगा लगाकर जैश सरगना मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचा लिया था। उस वक्त चीन ने मसूद के पक्ष में तर्क दिया था कि वह बहुत बीमार है और अब ऐक्टिव नहीं है और न ही वह जैश का सरगना है।


कमेंट करें