बिज़नेस

बजट सत्र 2018: राष्ट्रपति कोविंद ने पेश किया मोदी सरकार का रिपोर्टकार्ड

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
563
| जनवरी 29 , 2018 , 14:34 IST

2018 के पहले संसद सत्र और बजट सत्र की शुरुआत हो गई है, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के साथ बजट सत्र की शुरुआत हुई है। राष्ट्रपति ने अपने अभिभाषण में 2018 के बजट को भारत के सपनों को साकार करने वाला बजट बताया है। राष्ट्रपति ने अपने अभिभाषण के दौरान मोदी सरकार की कई उपलब्धियों की जानकारी दी। राष्ट्रपति ने मुद्रा योजना, जनधन योजना, डिजीटल इंडिया और उज्वला योजना जैसी मोदी सरकार की तमाम योजनाओं को सराहा है। राष्ट्रपति‍ ने कहा कि‍ 2022 तक कि‍सानों की आय को दोगुना करने के लि‍ए सरकार प्रति‍बद्ध है।

बजट सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी दलों के नेताओं से सत्र को सुचारू रूप से चलाने की अपील की है। मोदी सरकार की यह चौथा पूर्ण बजट है। जीएसटी लागू होने के बाद यह पहला बजट है, वहीं 2019 लोकसभा चुनाव से पहले आखिरी पूर्ण बजट है। इस लिहाज से बजट काफी अहम बताया जा रहा है। बजट 1 फरवरी को पेश होगा।

राष्‍ट्रपति‍ ने गांव और कि‍सानों के लि‍ए कहीं ये बातें-

-भारत के 82 फीसदी गांव अब सड़कों से जुड़ चुके हैं।
-सरकार का मकसद है कि वर्ष 2019 तक सभी गांवों को सड़कों से जोड़ दि‍या जाए।
-उन्‍होंने बताया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत 5.71 करोड़ कि‍सानों को कवर कि‍या गया है।

-राष्ट्रपति‍ ने कहा कि‍ 2022 तक कि‍सानों की आय को दोगुना करने के लि‍ए सरकार प्रति‍बद्ध है।

-भारत नेट के तहत 2,50,000 ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड कनेक्‍शन से लैस कर दि‍या जाएगा।

-मंडि‍यों को ऑनलाइन जोड़ने का कार्य प्रगति‍ पर है।
-सरकार का मकसद कि‍सानों की लागत कम करना है।

और क्या कहा...

31 करोड़ जनधन खाते खोले गए
गरीबों को घर बनाने के लिए 6 प्रतिशत पर ब्याज

पिछले साढ़े तीन वर्षों में शहरी और ग्रामीण इलाकों में 93 लाख से अधिक घरों का निर्माण किया गया है।

पिछले एक साल में 45 लाख से अधिक विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति, फेलोशिप, कौशल विकास और कोचिंग स्कीमों का लाभ दिया गया है

सरकार ने ‘दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम 2016’ लागू किया है। दिव्यांगों के लिए सरकारी नौकरियों में 4 प्रतिशत और उच्च शिक्षा में 5 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है

घुटने के ऑपरेशन के लिए लगने वाले इंप्लांट का खर्च घटाया

देशभर में MMBS की सीटें बढ़ाई गई

हार्ट स्टेंट की कीमत में 80 प्रतिशत की कटौती की गई

2019 तक हर ग्राम को बिजली देने का लक्ष्य

युवाओं को रोजगार देने के लिए स्टॉर्टअप इंडिया

श्रम कानूनों को सरकार ने आसान  बनाया

अटल पेंशन योजना’ के तहत लगभग 80 लाख वरिष्ठ नागरिक लाभान्वित हो रहे हैं

श्रमिकों का न्यूनतम वेतन 40 प्रतिशत बढ़ाया

आधार के जरिए बिना बिचौलियों के आम आदमी तक सुविधाएं पहुंच रही हैं

भारत बिचली का एक्सपोर्टर बना

पिछले 3 सालों में सौर ऊर्जा उत्पादन में 7 गुना की बढ़ोतरी​

पर्यावरण की रक्षा के साथ ही देश में प्रतिवर्ष 10,000 करोड़ यूनिट बिजली की बचत भी हो रही है

उजाला योजना के अंतर्गत देश में 28 करोड़ से ज्यादा LED बल्ब बांटे गए, 40 करोड़ रुपए की बचत हुई

उड़ान योजना से देश के आम आदमी तक हवाई सेवा पहुंच रही है, अबतक 56 हवाई अड्डे जोड़े गए

गंगा नदी पर कई परिवहन योजनाओं पर काम शुरू

400 से ज्यादा योजनाओं में डिजिटल भुगतान शुरु किया जिससे 57000 करोड़ की रकम गलत हाथों में जाने से बची


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें