नेशनल

तीन तलाक बिल में संशोधन को कैबिनेट ने दी मंजूरी, मजिस्ट्रेट से ले सकते हैं जमानत

icon सतीश कुमार वर्मा | 0
1970
| अगस्त 9 , 2018 , 19:01 IST

तीन तलाक पर लंबे समय से चल रही बहस के बाद केंद्र सरकार अब इस पर थोड़ी नरम होती नजर आ रही है। मानसून सत्र के आखिरी दिन केंद्रीय कैबिनेट ने तीन तलाक बिल में संशोधन को मंजूरी दे दी। यानी अब इसमें बदलाव हो सकता है। इस संशोधन के तहत तीन तलाक अब भी गैर जमानती ही रहेगा। लेकिन संशोधन के हिसाब से मजिस्ट्रेट इस केस में बेल दे सकता है। यानी अब सिर्फ मजिस्ट्रेट के पास ही बेल देने का अधिकार होगा।

केंद्र की बीजेपी सरकार 2019 के आम चुनाव से पहले इसे बड़ी उपलब्धि के तौर पर पेश करना चाहती है। विपक्ष द्वारा इस विधेयक के कुछ नियमों पर आपत्ति जताई जा रही थी। जिस कारण यह बिल राज्यसभा में अटक गया था। ऐसे में मंत्रिमंडल ने मामूली संशोधनों के साथ इसे पास किया है। अब पीड़िता के परिजन भी शिकायत दर्ज करा सकेंगे।

बता दें कि  सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक घोषित किया है, जिसके बाद केंद्र सरकार ने इस मसले पर लोक‍सभा में एक विधेयक पारित किया। इस विधेयक के तहत तीन तलाक देने वालों के लिए जेल की सजा का प्रावधान किया गया और इसे गैर-जमानती बनाया गया था।

गौरतलब है कि पिछले सत्र में राज्यसभा में इस विधेयक पर सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच काफी बहस हुई थी। दोनों ही पक्ष अपनी-अपनी मांगों पर अड़े थे। कांग्रेस का कहना था कि यह बिल त्रुटिपूर्ण है, ऐसे में इसे प्रवर समिति को भेजा जाए। साथ ही कांग्रेस पार्टी की मांग थी कि पीड़ित महिला के पति के जेल जाने की स्थिति में महिला को गुजारा भत्ता दिए जाने का संशोधन किया जाना चाहिए।


author
सतीश कुमार वर्मा

लेखक न्यूज वर्ल्ड इंडिया में वेब जर्नलिस्ट हैं

कमेंट करें