खेल

फिर क्रिकेट हुआ शर्मसार! ऑस्ट्रेलिया का गेम प्लान बना बॉल टेंपरिंग करना

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
760
| मार्च 25 , 2018 , 18:47 IST

क्रिकेट और विवाद दोनों का बहुत पुराना रिश्ता रहा है। जब बात ऑस्ट्रेलिया टीम की हो तो मामला खुद ब खुद ही समझ आने लगता है। अपने आक्रमक रवैये से विश्व क्रिकेट में पहचान बनाने वाली टीम बॉल टैंपरिंग के चंगुल में फंस गयी है। ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाड़ी कैमरन बैनक्रॉफ्ट को शनिवार को केप टाउन टेस्ट में किसी पीले रंग की चीज से बॉल के साथ छेड़छाड़ करता पाया गया।

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरून बेनक्रॉफ्ट ने अपनी इस गलती को मान भी लिया है। वह इस बात को स्वीकार करते हैं कि उन्होंने गेंद को कुछ बदलने की कोशिश की थी। क्रिकेट आस्ट्रेलिया की वेबसाइट के मुताबिक, बेनक्रॉफ्ट को मैच के दौरान अपनी पैंट से कोई पीले रंग की वस्तु निकालते हुए देखा गया था।

इसके बाद अंपायरों ने उनसे पूछा था कि उनकी जेब में वो क्या था। वीडियो में दिखाया गया है कि बेनक्रॉफ्ट गेंद पर कुछ लगा रहे हैं और उसे फिर वापस अपनी जेब में रख रहे हैं, बेनक्रॉफ्ट ने माना है कि वो पीले रंग का टेप था।

इसके लिए आस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने भी माफी मांगी है। उन्होंने कहा है "हमने इसके बारे में बात की और सोचा था कि इससे हमें फायदा होगा, नेतृत्व इसके बारे में जानता था। मुझे इस पर बिल्कुल भी गर्व नहीं है।" उन्होंने कहा, "प्रशिक्षक इसमें शामिल नहीं हैं, मेरी कप्तानी में यह दोबारा नहीं होगा।"

स्टीव स्मिथ ने मीडिया के सामने आकर माना कि कंगारू टीम से बॉल टैपरिंग कोई भूलवश नहीं हुई है बल्कि यह उसके गेम प्लान का हिस्सा था। बॉल टैंपरिंग को गेम प्लान का हिस्सा बताकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की साख पर बट्टा जरूर लगा है।

स्टीव स्मिथ ने माना कि उनकी टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ बॉल से छेड़छाड़ कर उन्हें धोखा देना चाहती थी और पूरी टीम को इसके बारे में जानकारी थी। कंगारू टीम ने बॉल के साथ छेड़छाड़ करने की यह जिम्मेदारी अपने खिलाड़ी कैमरन बैनक्रॉफ्ट को सौंपी थी। बैनक्रॉफ्ट जब बॉल के साथ यह हरकत कर रहे थे, तब टीवी कैमरे ने उन्हें पकड़ लिया।

यह खिलाड़ी गेंद को चिपचिपे टेप से रगड़ रहा था। कैप्टन स्मिथ और बैनक्रॉफ्ट ने बाद में अपनी इस गलती को स्वीकार भी कर लिया।

कैसे हुआ टेप का खेल-:

बैनक्रॉफ्ट ने इस टेप को अपने ट्राउजर की जेब में छिपा लिया और इस जब भी उन्हें मौका मिलता वह मिट्टी के कुछ कण इक्ट्ठा कर टेप पर भी चिपका रहे थे। जब गेंद उनके पास आई, तो उन्होंने बॉल टैंपरिंग के मकसद से चलाकी से गेंद पर टेप को रगड़ दिया।

बैनक्रॉफ्ट ने अपना काम भले ही सफाई से किया हो, लेकिन टीवी कैमरा ने उन्हें रंगे हाथों पकड़ लिया। इसके बाद बड़ी टीवी स्क्रीन पर इसका प्रसारण बार-बार किया गया। टीवी पर यह घटना क्लॉज अप के साथ स्लो मोशन में कई कई बार प्रसारित की गई। इसके बाद बैनक्रॉफ्ट अपने कृत्य पर शर्मसार भी दिख रहे थे और टीवी पर यह फुटेज भी दिखाई गई।

जब मैदान पर मौजूद अंपायरों ने बैनक्रॉफ्ट से इस संबंध में पूछताछ की, तो बैनक्रॉफ्ट ने उस संदिग्ध चीज (टेप) को अपने ट्राउजर के भीतर छिपा दिया। इसके बाद उन्होंने अंपायर को अपने सनग्लासिस का बैग दिखाया। लेकिन जब वह टेप को अपने अंडरवेअर में छिपाने का प्रयास कर रहे थे, तो भी कैमरे ने उन्हें पकड़ लिया।

स्मिथ की सफाई-:

तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद स्टीव स्मिथ अपने खिलाड़ी कैमरन बैनक्रॉफ्ट के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में पहुंचे, तो यहां उन पर इसी से संबंधित सवाल किए गए। स्मिथ ने यहां कहा कि जो भी हुआ वह सब टीवी कैमरा में रिकॉर्ड हो चुका है। उन्होंने कहा कि यह एक महत्वपूर्ण मैच है और जब गेंद से हरकत होती नहीं दिख रही थी, तो टीम के खिलाड़ियों ने कुछ ऐसा करने के फैसला लिया, जिससे वह खेल में वापसी कर सकें।


कमेंट करें