नेशनल

अहमदाबाद में घटी 'बुराड़ी कांड' जैसी घटना, जादू-टोना के चक्कर में गई पूरे परिवार की जान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1552
| सितंबर 12 , 2018 , 16:05 IST

दिल्ली के बुराड़ी कांड जैसा ही एक और कांड गुजरात के अहमदाबाद में हो गया है। यहां एक परिवार के तीन सदस्यों ने एक साथ आत्महत्या कर ली। आत्महत्या के पीछे तंत्र-मंत्र का मामला निकल कर सामने आ रहा है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।

परिवार के मुखिया कुणाल त्रिवेदी अपने परिवार के साथ नरोदा के अवनी स्काई में किराए के फ्लैट में रहते थे। कुणाल त्रिवेदी अपनी पत्नी कविता और बेटी श्रीन के साथ अपनी मां के साथ रहते थे। पुलिस के मुताबिक कुणाल ने फांसी लगाकर जान दी वहीं कविता और श्रीन ने जहरीली दवा पी थी।

Tripel_suicide1

कुणाल की मां घर मं बेहोश हालत में मिलीं, वह फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं। खबरो में बताया जा रहा कि बुराड़ी कांड की तरह घर के मुखिया 45 वर्षीय कुणाल खुद को फांसी लगाई थी। जबकि उसकी पत्नी कविता और 16 वर्षीय बेटी श्रीन की लाश घर में पड़ी मिली।

कुणाल का घर पिछले 24 घंटे से बंद था। नाते-रिश्तेदार उन्हें फोन कर रहे थे, लेकिन फोन रिसीव नहीं हो रहा था। किसी अनहोनी की आशंका होने पर उनके रिश्तेदार और अन्य परिवार वाले पुलिस को लेकर कुणाल के घर पहुंचे। कमरे के अंदर जाते ही सभी के होश उड़ गए। कुणाल फांसी से लटका था, जबकि उसकी पत्नी का शव फर्श पर और बेटी का शव बिस्तर पर पड़ा था।

3 पेज के सुसाइड नोट में व्यापारी ने लिखी कई बातें-:

शुरुआत में पुलिस इस सामूहिक हत्या का कारण पारिवारिक और आर्थिक कारणों को मान रही थी लेकिन आज 3 पेज का सुसाइड नोट सामने आने से एक नया खुलासा हुआ है। इस सुसाइड नोट में मां को लेकर व्यापारी ने लिखा है - मम्मी मैंने कई बार आपको काली शक्ति के बारे में बताया लेकिन आपने माना नहीं। अहमदाबाद के अलग-अलग इलाके में कुणाल के भाई-बहन रहते हैं। उन्होंने मां को हॉस्पिटल में एडिमट करवाया है।

किसी ने फोन नहीं उठाया तो हो गई शंका-:

इसके पहले मंगलवार रात को नरोड़ा के हरिदर्शन चार रास्ता के नजदीक फ्लैट में रहने और वहीं कॉस्मेटिक का बिजनेस करने वाले कुणाल, कविता और उसकी 16 साल की बेटी श्रीन और बुजुर्ग मां जयश्रीबेन किराए के फ्लेट में रहते थे. पिचले 24 घंटे में उनके घर के अलग-अलग लोगों और संबंधियों ने फोन किया लेकिन किसी ने फोन नहीं उठाया। इसके बाद लोगों को आशंका हो गई।

पारी ने गले में लगाया फंदा-:

परिवार के अन्य सदस्यों ने इसके बाद नरोडा पुलिस से संपर्क किया। पुलिस जब फ्लैट के बाहर पहुंची तो दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा तोड़ा तो देखा कुणाल फंदे पर लटक रहा था जबकि मां-बेटी की बॉडी बेडरूम में पड़ी थी।


कमेंट करें