नेशनल

शर्मनाक: प्रसव के दौरान बच्चे को इतनी जोर से खींचा कि धड़ आया बाहर, कोख में रह गया सिर

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1492
| जनवरी 10 , 2019 , 13:18 IST

राजस्थान के जैसलमेर में डॉक्टरों की लापरवाही का एक ऐसा मामला देखने को मिला है जिसे सुनकर आपकी रुह कांप उठे। जैसलमेर के एक सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों ने महिला की डिलिवरी के दौरान बच्चे के पैर को इतना जोर से खींचा कि उसका शरीर दो हिस्सों में बंट गया और सिर कोख में ही रह गया। हैरत की बात ये हुई कि इतने बड़े घटना के बाद भी डॉक्टरों ने ने परिजनों को कुछ नहीं बताया और महिला को जैसलमेर के लिए रेफर कर दिया। जैसलमेर से जोधपुर भेज दिया गया, जहां पूरे मामले का पता चला।

Baby-feet-847202_960_720जोधपुर के अस्पताल में महिला का ऑपरेशन किया गया तो केवल बच्चे का सिर बाहर आया। यह देखकर हर कोई हैरान रह गया और तब जाकर पूरा मामला सामने आया। कहा जा रहा है कि रामगढ़ में डॉक्टरों ने बच्चे के पैरों पर इतना जोर लगाया कि धड़ वाला हिस्सा बाहर आ गया और सिर पेट में रह गया।

तीन दिन पहले हुई थी भर्ती

तीन दिन पहले दीक्षा कंवर को प्रसव पीड़ा के बाद उसके परिजन रामगढ़ अस्पताल ले गए। यहां भर्ती करने के बाद डॉक्टर ने कहा कि मरीज को जैसलमेर ले जाओ, लेकिन परिवार वालों  को यह नहीं बताया गया कि प्रसव कराने के दौरान बच्चे का सिर अंदर रह गया है।

पुलिस ने मामला दर्ज किया

जैसलमेर के अस्पताल के डॉक्टर ने बता कि  रामगढ़ के डॉक्टरों ने उन्हें बताया था कि डिलिवरी हो गई है सिर्फ गर्भनाल ही अंदर है। लेकिन ऑपरेशन के दौरान उन्हें कुछ ऐसा समझ नहीं आया इसलिए जोधपुर रिफर कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर पूछताछ की तो रामगढ़ के डॉक्टरों ने बच्चे का धड़ लौटा दिया। इसके बाद सिर और धड़ वाले भाग का अलग-अलग पोस्टमॉर्टम किया गया।


कमेंट करें