नेशनल

CBSE पेपर लीक: 35,000 रुपए तक में बिका पेपर, दिल्ली में छात्रों का जोरदार प्रदर्शन

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1060
| मार्च 30 , 2018 , 22:01 IST

सीबीएसई पेपर लीक मामले में कई बातें सामने आई है। सीबीएसई के 10वीं के मैथ्स और 12वीं के अर्थशास्त्र के पेपर वॉट्सऐप के जरिए लीक हुए। करीब 1,000 छात्रों को लीक पेपर मिले। ये पेपर 1,000 रुपये से लेकर 35,000 रुपये तक बेचे गए। दिल्ली पुलिस को छानबीन में पता लगा कि सीबीएसई का पेपर करीब 35 हज़ार रुपए में किसी अभिभावक ने खरीदा था। लेकिन ये रकम इतनी ज्यादा थी कि उसकी भरपाई करने के लिए उसने उस पेपर को बांटना शुरू कर दिया।

पेपर खरीदने के बाद उन्होंने उसे बेचने की सोची और व्हाट्सएप के जरिए कई लोगों तक इसे पहुंचा दिया। इस दौरान ये पेपर किसी को 5000 रुपए में दिया गया तो किसी से 10 हज़ार तक भी वसूले गए। ऐसा करके पेपर की रकम को वसूल लिया गया।

इतना ही नहीं पेपर लीक मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने CBSE के एग्जामिनेशन कंट्रोलर को समन किया। चार घंटे तक पूछताछ हुई जिसमें CBSE परीक्षा को लेकर किस तरह के सिक्योरिटी फ़ीचर्स अपनाती है, पेपर की प्रिंटिंग कहां होती है?, एग्जामिनेशन सेंटर तक पेपर कैसे भेजे जाते हैं? लीक की ख़बर मिलते ही CBSE ने क्या क़दम उठाए? आदि शामिल हैं।

छात्रों का प्रदर्शन जारी:

पेपर लीक के मामले में दिल्ली में छात्रों ने लगातार दूसरे दिन भी CBSE के ख़िलाफ़ प्रदर्शन किए और CBSE मुख्यालय के बाहर रोड जाम किया। छात्रों ने CBSE के खिलाफ जमकर नारेबाज़ी भी की। दिल्ली के आईपी एक्सटेंशन पर भी छात्रों ने प्रदर्शन किया। यहां छात्रों के साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी CBSE के ऑफिस पर नारेबाज़ी की।


कमेंट करें