महासमर 2019

जोड़ तोड़ से महागठबंधन में सेंध लगाने की जुगत में BJP, ये दिग्गज नेता बदल सकते हैं पाला

आशुतोष कुमार राय, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2110
| मार्च 15 , 2019 , 12:53 IST

लोकसभा चुनाव 2019 में लगातार सीटों का खेल शुरु हो गया है, एक तरफ अपनी मजबूती दिखा रहा उत्तर प्रदेश में महागठबंधन है तो दूसरी तरफ बीजेपी के चाणक्य अमित शाह। अगर जब भी बात लोकसभा के चुनाव की होती है तो इस चुनाव में सबसे ज्यादा चर्चा का विषय उत्तर प्रदेश ही होता है और हो भी क्यों न राजनीतिक गलियारों में एक कहावत भी है कि प्रधानमंत्री का मुकुट उत्तर प्रदेश ही तय करता है।

यानी सीधे-सीधे बात कहें तो जिसका उत्तर प्रदेश उसकी दिल्ली... इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए महागठबंधन का तोड़ खोज रही बीजेपी को अब फिर से जोड़ तोड़ की राजनीति एक अच्छा रास्ता मिल गया है। एक तरफ मोदी की लहर और दूसरी तरफ बात जातिगत वोटों कैसे साधेगी बीजेपी...

जिस प्रकार से विधानसभा चुनावों में कई दिग्गजों को दूसरी पार्टियों से तोड़ कर उसे सर आंखों पर ही नहीं बल्कि उन नेताओं को केबिनेट में मंत्री भी बनाया गया। उसी पटकथा को दोहराने का काम बीजेपी अब कर रही है। खबर न्यूज वर्ल्ड इंडिया को मिली Exclusive जानकारी के मुताबिक ये दिग्गज नेता बीजेपी के संपर्क में हैं और महागठबंधन को चुनौती देने के लिए इनका होना अर्थात बीजेपी के तरकस में नई तीर के समान है।

1)- धनंजय सिंह

2)- पवन पांडे

3)- राज किशोर सिंह (बस्ती) सपा पूर्व मंत्री

4)- भालचंद्र यादव

आपको बता दें की अभी कई तरफ से बीजेपी अपने पत्ते नहीं खोली है लेकिन लोकसभा चुनाव से पहले महागठबंधन के काउंटर में जातिगत और महागठबंधन में टिकट न मिलने से नाराज लोगों पर भी बीजेपी की नजर है जिस प्रकार घोषी सीट के कद्दावर नेता राजीव राय ने खबर न्यूज वर्ल्ड इंडिया से हुई खास बातचीत में बताया कि बीजेपी के कई नेता उनसे संपर्क में हैं और उनका कहना था कि बीजेपी लगातार ऐसे प्रयास कर रही है। उन्होंने बलियांं के लिए भी बड़े उलटफेर के संकेत दिए।

इस बात से साफ होता है कि लोकसभा चुनाव से पहले बड़े उलट फेर देखे जा सकते हैं। हालांकि उत्तर प्रदेश में लगभग सभी पार्टिया अपने पत्ते खोलना शुरु भी कर चुकीं हैं जिसमें सूत्रों के अनुसार बदलाव संभव है। जिसमें नगीना और मेरठ से लेकर घोषी और बलिया की सीटें प्रमुख मानी जा रहीं हैं।


कमेंट करें