इंटरनेशनल

चीन की बढ़ी चालबाजियां, डोकलाम में बना रहा हेलीपैड और स्थायी चौकियां

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
787
| मार्च 5 , 2018 , 21:36 IST

चीन की नजरें अभी भी डोकलाम पर लगी हुई हैं। जिसकी वजह से भारत और चीन के सैनिक गतिरोध स्थल से दूर तैनात हो गए हैं। रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि चीन ने वहां अपनी सेना के लिए हेलिपैड्स और संतरी चौकियों का निर्माण किया है।

उन्होंने कहा '2017 में बने रहे गतिरोध के समाप्त होने के बाद दोनों पक्षों के जवानों ने खुद को गतिरोध स्थल में अपनी अपनी स्थितियों से दूर फिर से तैनात किया है। यहां दोनों पक्षों की संख्या कम हो गई है।'

उन्होंने कहा कि सर्दियों में भी ये सैनिक बने रहें, इसके लिए पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने संतरी चौकियों, खंदकों और हैलीपैड समेत कुछ बुनियादी ढांचों का निर्माण किया है। रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे ने पिछले सप्ताह कहा था कि चीन के साथ भारत की सीमा पर हालात संवेदनशील है और इसके गहराने की आशंका है।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण का यह बयान तब आया, जब उनसे पूछा गया कि सैटेलाइट इमेज से खुलासा हुआ है कि चीन ने डोकलाम में 7 हेलिपेड बनाने के साथ-साथ इस इलाके में टैंक और मिसाइल भी तैनात की हैं।

रक्षामंत्री ने कहा कि सीमा से संबंधित मुद्दों को नियमित तौर पर राजनयिक माध्यमों से चीन के सामने उठाया जाता है। बता दें कि 16 जून को भारतीय सैनिकों ने चीन के सैनिकों को विवादित क्षेत्र में सड़क निर्माण से रोका था। इसके बाद दोनों देशों के सैनिक एक-दूसरे के सामने डटे रहे थे।

यह विवाद 28 अगस्त को खत्म हुआ था। वहीं जनवरी में सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा था कि समय आ गया है कि भारत को अपना ध्यान पाकिस्तान के साथ सीमा की जगह चीनी सीमा पर लगाना होगा।

इसेभी पढ़ें-: शोपियां मुठभेड़: गोलीबारी में मरने वालों की संख्या हुई 6, गुस्से में स्थानीय लोग

वहीं एक अन्य सवाल में रक्षा मंत्री से पूछा गया कि चीन पाकिस्तान में अपना मिलिटरी बेस बना रहा है। इस पर रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत ऐसे किसी भी डिवेलपमेंट पर अपनी पैनी नजर बनाए हुए है।


कमेंट करें