इंटरनेशनल

ड्रैगन की फिर नई चाल, भारत-तिब्बत सीमा पर चीन ने तैनात की होवित्जर तोपें

विवेक यादव | 0
1484
| जनवरी 8 , 2019 , 19:31 IST

भारत को लेकर चीन का क्या रवैया रहा है इससे हर कोई वाकिफ है। चीन अक्सर भारत को लेकर कूटनीतियां अपनाते रहता है और कुछ समय पहले भारत से सटे तिब्बत में चीन ने हल्के युद्धक टैंकों को तैनात किया था। और अब इन टैंकों के बाद यहां पर होवित्जर तोपों को भी चीन ने तैनात कर दिया है।

चीन के आधिकारिक मीडिया ने मंगलवार को बताया कि सीमा पर सैन्य क्षमता को बढ़ाने के लिए मोबाइल होवित्जर तोपों की तैनाती की गई है। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक स्वायत्त क्षेत्र तिब्बत में पीपल्स लिबरेशन आर्मी को मजबूती देने के लिए मोबाइल होवित्जर तोपों की तैनाती की गई है। इन तोपों को खासतौर पर सीमा की सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए लगाया गया है।

मीडिया में आ रही खबरों की माने तो, कहा जा रहा है कि इन PLC-181 मोबाइल होवित्जर तोपों को वीकल पर ले जाया जा सकेगा। रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार को पीएलए ने अपने वीचैट अकाउंट पर इस बात की जानकारी दी। रीपोर्ट के मुताबिक 2017 में डोकलाम में भारत और चीन के बीच हुए गतिरोध के दौरान भी इन्हें तिब्बत में इस्तेमाल किया गया था।

मिलिट्री एक्सपर्ट सॉन्ग ऑन्गपिंग ने ग्लोबल टाइम्स को बताया कि होवित्जर तोपें 50 किलोमीटर से ज्यादा की रेंज तक मार कर सकती है। इसके आगे उन्होंने कहा कि इससे पीएलए को तिब्बत के अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में ताकत मिलेगी। चीन ने तिब्बत में हल्के युद्धक टैंकों की तैनाती के बाद मोबाइल होवित्जर को लगाने का फैसला लिया है।

गौरतलब हो कि साल 2017 में डोकलाम के मुद्दे को लेकर भारत और चीन की सेना दो महीने तक आमने-सामने थी और सीमा पर तनाव लगातार बढ़ता जा रहा था। हालांकि इस बीट कुटनीतिक रास्तों से भी मामला सुलझाने की कोशिश की गई। लेकिन चीन की ओर से लगातार धमकी दी जाती रही।


कमेंट करें